राज्यस्तरीय बॉल बैटमिंटन मुकाबलों का भव्य आगाज़
-खेल इतिहास में बाड़मेर में पहली बार आयोजन
-राज्य भर से 400 खिलाड़ी पहुचे
बाड़मेर
अपनी ज़मी पर हर तरह का खेल होते देखने वाली बाड़मेर की धरा ने पहली मर्तबा एक अनूठे खेल आयोजन की शुरुवात होते शुक्रवार को देखी। शुक्रवार से रविवार तक चलने वाले बॉल बैटमिंटन की ओपन राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन जहाँ बाड़मेर में पहली बार हो रहा है वही पहली ही बार में 400 के करीब खिलाडी राज्य भर से बाड़मेर पहुचे।स्थानीय आदर्श स्टेडियम में दोपहर में इस प्रतियोगिता का भव्य उद्घाटन समारोह आयोजित किया गया। आयोजन में बतौर मुख्य अतिथि रावत त्रिभुवन सिंह, बतौर अध्यक्ष आदित्य अग्रवाल निदेशक राज वेस्ट,बतौर अति विशिष्ट अतिथि कोंग्रेस जिला अध्यक्ष फतेह मोहम्मद , आजाद सिंह,विनोद विठ्ठल, अब्दुल अब्बास, जोगेंद्र सिंह,डॉक्टर उमा बिहारी,शौकत अली, मौजूद रहे । उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए रावत त्रिभुवन सिंह ने कहा कि 'पढ़ोगे-लिखोगे बनोगे नवाब, खेलोगे कूदोगे तो होगे खराब’ यह कहावत अब पुरानी ही चुकी है। अब तो खेलों को शिक्षा के बराबर महत्व दिया जाता है। व्यक्ति के सर्वांगीण विकास में खेलकूद का अपना विशिष्ट महत्व है। समारोह में बोलते हुए आदित्य अग्रवाल ने कहा कि आज प्रतियोगिता का युग है। हर क्षेत्र में कड़े मुकाबले का सामना करना पड़ता है। इस मुकाबले में खरा उतरने के लिये चाहिये तेज बुद्धि और कठारे परिश्रम! स्वास्थ्य अच्छा होने पर ही परिश्रम करना सम्भव है। खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए आजाद सिंह ने कहा कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है। जिस तरह जीने के लिये भोजन पानी की जरूरत है उसी तरह स्वस्थ रहने के लिये खेल एवं व्यायाम बहुत जरूरी है। अपने संबोधन में आजाद सिंह ने कहा कि खेलना विद्यार्थियों के लिये और भी महत्व रखता है क्योंकि इससे तन और मन दोनों स्वस्थ रहते हैं। एकाग्रता बढ़ती है। खेलों के नियमों का पालन करने से टीम भावना व परस्पर सहयोग की भावना जागृत होती है। कार्यक्रम के आगाज पर सभी खिलाड़ियों के परिचय के साथ अतिथियों का स्वागत भी आयोजन समिति की तरफ से किया गया। आयोजन को लेकर जहाँ स्थानीय आदर्श स्टेडियम में दो मैदान बनाये गए है वही आयोजन को लेकर आयोजन कमेटी ने अपनी तैयारियों के साथ अलग अलग जगहों से आने वाले हर खिलाडी और उनके कोच के लिए आवास और भोजन की व्यवस्था निःशुल्क रखी गई है। पहली बार हो रही इस तरह की प्रतियोगिता को देखने के लिए बड़ी तादात में आने वाले दर्शकों को भी ध्यान में रखते हुए व्यवस्थाएं की गई है। कार्यक्रम में अतिथियों का आभार अमित बोहरा ने दिया वही मंच

पहले दिन 4 मैच हुए आयोजित
राज्य स्तरीय बॉल बैटमिंटन ओपन प्रतियोगिता के पहले दिन छात्र वर्ग में 3 और छात्रा वर्ग में 1 मैच आयोजित हुआ।आयोजन प्रवक्ता अशोक राजपुरोहित ने बताया कि पहले दिन जयपुर ने कोटा को 2-0, भरतपुर ने अजमेर को 3-2, भीलवाड़ा ने चुरू को 2-0 से हराया इसी तरह छात्रा वर्ग में एक मैच आयोजित हुआ जिसमें जयपुर ने जोधपुर को 2-0 से हराया।

1856 से शुरुवात भारत से ही
विश्व भर में शतरंज के बाद बॉल बैटमिंटन भी वह खेल है जिसका जनक भारत है। तमिलनाडु के तन्जोर राजपरिवार द्वारा बैटमिंटन को शटल की बजाए बॉल से खेलने की शुरुवात हुई। बैटमिंटन से थोड़े भारी रैकेट से खेले जाने वाले खेल की शुरुवात भले ही 1865 में हुई लेकिन यह खेल बाड़मेर की धरा पर किसी प्रतियोगिता में उतरता नजर नही आया। यह पहला ही मौका है जब बाड़मेर की अवाम भी इस खेल से रूबरू हो रहे है। आयोजन के लिए बाड़मेर बॉल बैटमिंटन संघ ने विभिन्न संगठनों और भामाशाहों से मदद एकत्रित कर आयोजन की शुरुवात की गई है।

2880 वर्ग फिट के दो मैदानो पर मैच
शुक्रवार से आदर्श स्टेडियम के मैदान में शुरू हुई राज्य स्तरीय आयोजन के लिए 2880 वर्ग फिट के दो अलग अलग मैदान तैयार किये गए है जहाँ राज्य भर के खिलाड़ी अपना हुनर दिखाना शुरू कर दिया है। बॉल बैटमिंटन प्रतियोगिता में एक दल से 10 खिलाड़ियों में से 5 खिलाडी मैदान में खेलते हैं और 5 अन्य खिलाड़ियों के तौर पर बाहर बैठते हैं । इन प्रतियोगिताओं में निर्णायक एवं रेफरी जयपुर से बुलाये गये है जो की देर रात बाड़मेर पहुच गये थे।

ये रहे मौजूद 
बाड़मेर बॉल बैटमिंटन संघ के इस आयोजन के उद्घाटन समारोह में आयोजन सचिव अमित बोहरा, अक्षय दान, रमेश कड़वासरा, अशोक राजपुरोहित, अनिल सुखानी,छोटू सिंह, बाबू भाई ,वीरेंद्र जैन, इंद्र प्रकाश पुरोहित , अब्दुल मजीद वारसी , सलीम राजा , देवेंद्र वर्मा , रघुवीर सिंह ,डॉक्टर लक्षिकान्त जोशी, समेत बड़ी तादात में गणमान्य नागरिक केयर्न इंडिया और राजवेस्ट के अधिकारी उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top