जैसलमेर में विधिक सेवा सप्ताह का विधिवत् शुभारम्भ

आमजन को विधिक एवं कानूनी जानकारी से अवगत करावें- जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्री शर्मा

जैसलमेर
जैसलमेर में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में विधिक सेवा सप्ताह का विधिवत् शुभारम्भ जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्री गजानन्द शर्मा के मुख्य आतिथ्य एवं अतिरिक्त जिला कलेक्टर श्री के.एल. स्वामी की अध्यक्षता में जिलापरिषद् के अटल सेवा केन्द्र में हुआ। शुभारम्भ समारोह में पूर्णकालिक सचिव (मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट) जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, न्यायिक मजिस्टेªट, डॉ. महेन्द्र कुमार गोयल, उपखण्ड अधिकारी कैलाशचन्द्र शर्मा, उपाधीक्षक एससी/एसटी सेल वीरेन्द्रसिंह के साथ ही अधिवक्तागण, अधिकारी, समाजसेवी एवं स्वयं सेवी संस्थाओं के पदाधिकारी, पैरा लीगल वॉलेन्टीयर्स उपस्थित थे।
जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्री शर्मा ने संभागीयों को संबोधित करते हुए कहा कि लोगों में जागरूकता की कमी होने के कारण वे विधिक एवं कानूनी जानकारी नहीं रखते हैं जिसके कारण वे उसका पूरा लाभ नहीं ले पाते हैं। उन्होंने कहा कि इस विधिक सप्ताह के दौरान हमें आमजन को विधिक एवं कानूनी जानकारी प्रदान कर उनके अधिकारों एवं कर्तव्यों के प्रति सजग करना हैं। उन्होंने कहा कि विधिक सेवा प्राधिकरण एवं सरकार द्वारा गरीब व्यक्तियों के उत्थान के लिए अनेकों योजनाओं चलाई जा रही है लेकिन जानकारी के अभाव में उन लोगों तक योजना का लाभ नहीं पहंुच पाता है इसलिए हम सभी को पूरा सहयोग प्रदान कर पात्र लोगों को योजनाओं से लाभान्वित करना हैं।
उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण की जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि हमें इन योजनाओं को भी पात्र लोगों तक जानकारी प्रदान करनी है एवं उनको योजनाओं से लाभान्वित भी करना हैं। उन्होंने कहा कि विधिक सेवा द्वारा लोक अदालतों का आयोजन किया जाकर आपसी समझाईश से मामलों का निस्तारण करवाया जाता हैं जिससे टूटे हुए रिश्ते भी पुनः मजबूत होते हैं। उन्होंने विभिन्न कानूनी प्रावधानों की भी विस्तार से जानकारी प्रदान की।
अतिरिक्त जिला कलेक्टर स्वामी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा गरीबों के उत्थान के लिए ढे़रों योजनाएं चलाई जा रही हैं जिसका प्रचार-प्रसार करके पात्र व्यक्ति को लाभान्वित करना हैं। उन्होंने कहा कि महा नरेगा में भी कानूनी प्रावधान किया जाकर श्रमिकों को 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध करवाया जा रहा है इसके साथ ही शिक्षा के अधिकार को भी कानूनी प्रावधान दिया गया हैं। उन्होंने कहा कि विधिक सप्ताह में प्रशासन द्वारा भी पूरा सहयोग प्रदान किया जाएगा।
पूर्णकालिक सचिव एवं मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, पूर्णिमा गौड़ ने बताया कि राष्ट्रीय एवं राज्य प्राधिकरण के निर्देशों की पालना में जिले में 06 नवम्बर से 11 नवम्बर तक विधिक सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है जिसका आज विधिवत शुभारम्भ हुआ हैं। उन्होंने सप्ताह के दौरान किए जाने वाले कार्यो एवं उद्देश्यों पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने पैनल अधिवक्ताओं एवं पैरा लीगल वॉलेन्टीयर्स को कहा कि वे सप्ताह के दौरान नालसा की 7 जन कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में शिविर लगाकर इस सप्ताह को सफल बनावें एवं लोगों को विधिक सेवा जानकारी प्रदान करें।
न्यायिक मजिस्ट्रेट, डॉ. गोयल ने अतिथियों का स्वागत करते हुए विधिक सेवा सप्ताह की विस्तार से जानकारी प्रदान की एवं कार्यक्रम का संचालन किया। उन्होंने माध्यमिक शिक्षा में विधिक शिक्षा को शामिल करने के संबंध में सुझाव भी प्रदान किया।
इस दौरान सहायक निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग हिम्मतसिंह कविया ने विभाग द्वारा संचालित विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं की विस्तार से संभागीयों को जानकारी प्रदान की। श्रम कल्याण अधिकारी भवानी प्रताप चारण ने श्रम कल्याण विभाग द्वारा श्रमिकों के कल्याण एवं उत्थान के लिए संचालित योजनाओं की जानकारी प्रदान की।
समारोह में जैसलमेर जिला बार संघ उपाध्यक्ष एवं अधिवक्ता चन्दनाराम चौधरी, अधिवक्ता जहांगीर मलिक, गिरीराज गज्जा, अरविन्द कुमार गोपा, हेमसिंह राठौड़, प्रतापपुरी स्वामी, विपिन व्यास समाजसेवी राणजी चौधरी, शिक्षा विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। अंत में पैरा लीगल वॉलेन्टीयर्स नवदीप भाटिया ने सप्ताह के दौरान पूर्ण उत्साह के साथ सहयोग करने का विश्वास दिलाया।
नालसा की कल्याणकारी योजनाओं के पेम्पलेट का विमोचन
समारोह के दौरान जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्री शर्मा के साथ ही अन्य अतिथियों ने राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण की जन कल्याणकारी योजनाओं में पीडि़तों के पुनर्वास के लिए नवीन योजनाओं से संबंधित पेम्पलेट का विमोचन किया।
इस पेम्पलेट में नालसा की नवीन योजना तस्करी एवं वाणिज्यिक यौन शोषण पीडि़तों के लिए, असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए, बच्चों के मैत्रीपूर्ण विधिक सेवाएं और उनके संरक्षण के लिए, मानसिक रूप से बीमार और मानसिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के लिए, गरीबी उन्मूलन योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए, आदिवासियों के अधिकारों के संरक्षण और प्रवर्तन के लिए, नशा पीडि़तों को विधिक सेवा एवं नशा उन्मूलन के लिए विधिक सेवा योजना 2015 की जानकारी प्रदान की गई है।

विधिक चेतना रैली को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना
जैसलमेर। विधिक सप्ताह के शुभारम्भ के अवसर पर अटल सेवा केन्द्र से विद्यार्थियों की विधिक चेतना रैली आयोजित की गई। इस रैली को जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्री गजानन्द शर्मा, अतिरिक्त जिला कलेक्टर के.एल. स्वामी ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान पूर्णकालिक सचिव पूर्णिमा गौड़, न्यायिक मजिस्ट्रेट, डॉ. महेन्द्र कुमार गोयल, उपखण्ड अधिकारी कैलाशचन्द्र शर्मा के साथ ही अधिवक्तागण एवं अधिकारी उपस्थित थे।




यह रैली अटल सेवा केन्द्र से होती हुई मुख्य बाजार से गुजरी एवं संभागीयों के हाथों में विधिक चेतना से संबंधित नारे लिखे हुए की तख्तियां थी एवं वे नारों का उद्घोष करते हुए विधिक चेतना का संदेश दिया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top