गौ माता की सेवा से बढ़कर कोई पुण्य नहीं- बाके बिहारी
बाड़मेर 
शहर के विष्णु कॉलोनी में स्थित बाबा रामदेव मंदिर व शिव मंदिर में भागवत कथा के दूसरे दिन कथावाचक बांके बिहारी ने कथा में बताया कि भक्ति से भगवान की प्राप्ति होती हैं। महाराज जी अपने प्रवचन में सृष्टि वर्णन द्रोपदी का चरित्र महाभारत की कथा पर प्रकाश डाला तथा कहा कि हिन्दु धर्म में गाय को मॉ का स्थान दिया गया है। आज गाय की स्थिति दयनीय है। गाय का स्थान हमारे हदय में रह गया हैं। यही वजह है कि गाय की दुर्दशा हो रही है। हर किसान के घर में कम से कम एक गाय होनी चाहिए। इससे गाय की स्थिति सुधर जायेगी। उन्होंने कहा कि गाय का दूध अमृत के समान हैं। गाय के दूध व मॉ के दूध में कोई अन्तर नहीं है। हमें मानसिक परेशानियों से बचने के लिए हमें गाय का पालन करना चाहिए। आज आरती का लाभ श्यामलाल पूर्व पार्षद ने उठाया। यह आयोजन सभी भक्तो के सहयोग से चल रहा हैं। कल कथावाचन में वामन भगवान की सुन्दर झांकी दिखाई जायेगी। इस अवसर पर श्यामलाल माली पूर्व पार्षद, प्रेमाराम भादू, मोटाराम सियोल छात्रसंघ अध्यक्ष, हरफूल माली, बलवीर पार्षद, प्यारेलाल, धनाराम माली, राणसिंह, रामनारायण, नारणसिंह आगौर, सावताराम माली, गणपत भाटी सहित सैकड़ों भक्तजन उपस्थित थें। यह जानकारी प्रवक्ता किशन चौधरी ने दी

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top