राजकीय अवकाश के दिन ग्रामसेवक संघ करेगा सरकारी काम
बाड़मेर 
ग्रामसेवक संघ की प्रदेष कार्यकारिणी के निर्देषानुसार बाड़मेर जिले की समस्त सत्रह पंचायत समिति के ग्राम सेवक आगामी 8 अक्टूबर से 11 अक्टूबर को (षनिवार, रविवार, रामनवमी, विजयादषमी) राजकीय अवकाष के दिनों में अटल सेवा केन्द्रों में बैठकर पेंषन, पालनहार, स्वच्छ भारत मिषन के कार्य संपादित कर आम आदमी को राहत प्रदान कर लोक कल्याण के कार्य करेगे। 
जिला महामंत्री मूलाराम पूनिया ने बताया कि 12 अक्टूबर तक राज्य सरकार द्वारा 11 सूत्री मांग-पत्र की मांगे नही मानी गई तो 13 व 14 अक्टूबर को जिला मुख्यालय पर बाड़मेर के समस्त ग्रामसेवक पंचायत षिविरों का बहिष्कार कर धरना देंगे। सामूहिक धरने की अनुमति व सूचना हेतु ग्रामसेवक संघ द्वारा जिला कलक्टर व जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय को सूचित किया चुका है। जिले की सभी पंचायत समिति द्वारा 13 व 14 अक्टूबर को धरने में उपस्थिति हेतु सामूहिक अवकाष का प्रार्थना-पत्र अपने-अपने विकास अधिकारियों को दिये जा रहे है। 
प्रदेष के एक मात्र ग्रामसेवक संवर्ग को स्नातक योग्यता होते हुए भी अन्य संवर्गो से कम वेतन दिया जा रहा है जबकि ग्राम पंचायत स्तर पर सैकड़ो योजनाओं व फ्लेगषिप कार्यक्रमों का संपादन हमारे द्वारा किया जाता है। राज्य सरकार द्वारा कार्य की अधिकता को लगातार नजर अंदाज किये जाने से प्रदेष व बाड़मेर जिले के समस्त ग्रामसेवकों में भारी असंतोष है।
इसी संदर्भ में ग्रामसेवको द्वारा 28 सितम्बर को बीडीओ एसडीएम सीईओ कलक्टर तथा 1 अक्टूबर को एमपी, एमएलए, प्रमुख प्रधान को ज्ञापन देकर अपनी आवाज सरकार तक पहुॅचाने की अपील की थी। 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर जिले के समस्त सरकारी अस्पतालों में मरीजों को फल वितरित कर ग्रामसभाओं का सामुहिक बहिष्कार किया गया जिसके परिणामस्वरूप ग्रामसभाओं का कही भी आयोजन नही हुआ। 
ग्रामसेवक संघ उम्मीद करता है कि संवेदनषील मुख्यमंत्री इस पूरे प्रकरण पर गंभीरता से विचार कर हमारी मांगे मानेगी ताकि ग्रामसेवके को मजबूर होकर अपन असहयोग आंदोलन 12 अक्टूबर से आगे नही बढ़ाना पड़े, लेकिन आवष्यकता पड़ी तो बड़मेर जिले के समस्त ग्रामसेवक प्रदेषकार्यकारिणी के निर्देष पर आगे के सघर्ष को तैयर है। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top