मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 13 जनवरी को 
बाड़मेर ।
भारत निर्वाचन आयोग की ओर से विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस कार्यक्रम में कुछ संशोधन किये गये हैं। संशोधित विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के अनुसार 3 नवंबर को सभी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रांे के प्रत्येक मतदान केन्द्र पर मतदाता सूचियों का प्रारूप प्रकाशन किया जाएगा। 
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बताया कि इस विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान 03 नवम्बर, 2016 से 02 दिसम्बर, 2016 तक पात्र व्यक्ति मतदाता सूचियों में नाम जुड़वा अथवा हटवा सकते हैं। इसके साथ ही पात्र व्यक्ति किसी भी प्रकार के संशोधन के लिए आवेदन कर सकता है। बीएलओ द्वारा 05 एवं 12 नवम्बर, 2016 को मतदाता सूचियों के संबंधित भाग की प्रविष्टियों का ग्राम सभा, स्थानीय निकाय एवं आवासीय वेलफेयर सोसायटी के साथ बैठक कर मतदाता सूचियों का पठन एवं प्राप्त प्रविष्टियों का सत्यापन करेंगे। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 13 नवम्बर (रविवार) एवं 20 नवम्बर (रविवार) को सभी मतदान केन्द्रों पर विशेष शिविरों के दौरान बूथ लेवल अधिकारी प्रातः 9.00 बजे से सायं 06.00 बजे तक मतदान केन्द्र पर राजनैतिक दलों द्वारा नियुक्त अभिकर्ताओं के साथ दावे एवं आपत्तियों के प्रार्थना पत्र प्राप्त करेंगे। 
उन्हांेने बताया कि पुनरीक्षण कार्यक्रम की अवधि में प्राप्त दावे एवं आपत्तियों का निस्तारण संबंधित निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी 16 दिसंबर, 2016 तक करेंगे। इसके पश्चात् 31 दिसंबर, 2016 तक डेटाबेस अपडेट करके पूरक मतदाता सूचियों का मुद्रण किया जाएगा। मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 13 जनवरी, 2017 को किया जाएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि इस पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान एक जनवरी 2017 को जिन युवाओं द्वारा 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर ली गई है या की जाएगी, उनके द्वारा प्रारूप 6 में आवेदन किया जा सकेगा। इसके अतिरिक्त ऐसे सभी पात्र व्यक्ति जिनका नाम अभी तक किसी वजह से मतदाता सूची में दर्ज नहीं है के द्वारा भी आवेदन पत्र प्रस्तुत किए जा सकेंगे। मतदाता सूची में पंजीकृत ऐसे सभी मतदाताओं के लिए यह सुविधा उपलब्ध रहेगी कि वे अपने मतदान केन्द्र पर जाकर मतदाता सूची में अपनी प्रविष्टि देखें, यदि इसमें किसी प्रकार की अशुद्वि हो तो मौके पर ही बूथ लेवल अधिकारी को निर्धारित प्रपत्र में आवेदन प्रस्तुत कर सकेंगे। उन्हांेने बताया कि प्रारूप मतदाता सूची 2017 विभाग की वेब साइट पर उपलब्ध करवायी जा रही है। विभाग की वेब साइट पर पूर्व में पंजीकृत मतदाताओं को अपना नाम ढूंढने की सुविधा प्रदान की गई है। इसके अतिरिक्त पुनरीक्षण कार्यक्रम की अवधि में यदि किसी नागरिक को किसी प्रकार की कोई कठिनाई है तो वे विभाग के कॉल सेन्टर 1950 पर अपनी समस्या का निदान करा सकेंगे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top