जैसलमेर बेटियों के साथ अनपढ बहुओं को भी पढाना जरूरी-अंजना मेघवाल
फतेहगढ/जैसलमेर। 
समाज के समग्र विकास के लिए बेटियों को पढाना जरूरी है साथ ही बच्चों और परिवार के सही पालन पोषण के लिए अनपढ बहुओं को भी पढाना आवष्यक है। हम जानते हैं कि डिजिटल इण्डिया के इस दौर में भी अनपढ बहुए अपनी रिस्तेदारों से बात करने के लिए परिवार के सदस्यों से नम्बर मिलाने का आग्रह करती रहती है। इसलिए अनपढ बहु पढेंगी तो परिवार के साथ समाज के विकास की राह आसान बनेगी। सरकार की ओर से किसानों, मजदूर, गरीबजन एवं विद्यार्थियों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं चल रही हैं। जानकारी के अभाव में बहुत से लोग इन योजनाओं का लाभ लेने से वंचित रह जाते हैं। क्षेत्रीय प्रचार निदेषालय की ओर से ग्रामीणक्षेत्र में आयोजित किए जा रहे जागरूकता कार्यक्रमों से लाभ लेकर हजारों लोग कल्याणकारी योजनाओं से सीधे जुड़ रहे हैं। क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय की ओर से राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय फतेहगढ में आयोजित विकास की नई उड़ान के मुख्य कार्यक्रम में ग्रामीणजन को संबोधित करते हुए मुख्य अथिति एवं जिला प्रमुख अंजना मेघवाल ने यह बात कही। 
समारोह की अध्यक्षता करते हुए जिला कलक्टर मातादीन शर्मा ने कहा कि स्वच्छता को बढावा देने के लिए हर घर में शौचालय होना चाहिए साथ ही उनका उपयोग सुनिष्चित किया जाना चाहिए। देखा जाता है कि स्कूलों के प्रवेष लेने वाली 100 बेटियों में से 8 वीं के बाद कुछ लड़किया स्कूल छोड़ देती हैं हमें प्रयास पूर्वक बेटियों की पढाई को जारी रखना है। उन्होंने कहा कि युवाओं को आगे बढकर खुले में शौच जाने वाले लोगों की मानसिकता बदलने की पहल करनी चाहिए ताकि हम सुखी और तन्दुरूस्त रहकर विकास में भागीदार बनें।
इससे पहले क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी राजेष मीणा ने अथितियों का स्वागत करते हुए बताया कि क्षेत्रीय प्रचार निदेषालय भारत सरकार की एकमात्र मीडिया इकाई जो सर्वाधिक लोगों से सीधे संवाद करता है। इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी रणसिंह, तहसीलदार तुलसाराम विष्नोई, सरपंच सवाईलाल सेन, समाजसेवी दिनेषपाल सिंह, उमराव सिंह चारण, शम्भूदान चारण मौजूद रहे। 

उपयोगी एवं पे्ररक पुरस्कार पाकर खिले विजेताओं के चेहरे

खेलों के माध्यम से आमजन को कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ने के लिए क्षेत्रीय प्रचार निदेषालय की ओर से पूर्व प्रचार के दौरान फतेहगढ एवं समीप के गांवों में स्वच्छ घर-स्वच्छ आंगन, संदेष के साथ मेहन्दी प्रतियोगिता, संदेष परक रंगोली, बाॅलिवाल, कबड्डी, म्यूजिकल चेयर तथा दौड़ प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। साथ ही मुख्य कार्यक्रम में संदर्भ वक्ताओं द्वारा दी गयी जानकारी को अधिक प्रभावी बनाने के लिए प्रष्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इन प्रतियोगिताओं में सफल और सही जवाब देने वाले प्रतिभागियों को फतेहगढ में आयोजित मुख्य कार्यक्रम के दौरान निदेषालय की ओर से जिला प्रमुख एवं जिला कलक्टर ने पे्ररक संदेष छपे छाते, कैप, की चैन, नेट और बाॅल आदि पुरस्कार देकर सम्मानित किया। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top