शिव सेना ने  रोड़वेज बसों को शहर में प्रवेश की अनुमति देने की मांग 
बाड़मेर।
आम जनता के यातायात सुविधा की रोड़वेज बसों को बाड़मेर शहर में प्रवेश की मांग को लेकर शिव सेना ने शुक्रवार को जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर रोड़वेज बसों को बाड़मेर शहर में मुख्य सड़क मार्ग से होकर आनें-जानें की अविलम्ब ही अनुमति देने की मांग की।
शिव सेना के जिला प्रमुख बसंत खत्री ने ज्ञापन में बताया कि बाड़मेर शहर मे आम जनता के यात्री सुविधा की रोड़वेज बसों के मुख्य सड़क मार्ग पर होकर आनें-जानें की पांबदी लगाने से बाड़मेर की समस्त आम जनता यात्रीगण भंयकर रुप से प्रभावित होकर परेशान हो रहे है। यात्रियों को बाड़मेर शहर के बाहर छोड़ा जारहा है।
रोड़वेज का नया बस स्टेण्ड पहले से ही बाड़मेर मुख्य शहर के बाहरी छोर पर, दूर होने के कारण, यात्रियों को जितना किराया उनके जानें वाले स्थान का लगता है, उससे भी अधिक दुगुना-चौगुना अतिरिक्त किराया टैक्सी आदि वाहन को देकर रोड़वेज के इतने दूर नये बस स्टैण्ड तक अथवा बाड़मेर मुख्य शहर के बाहर स्थित चौराहों पर पहुॅच कर बसों में चढ़ना पड रहा है।
यात्री अपने घरेलु सामान सहित लदे हुये इधर-उधर भटककर परेशान हो रहे है। बीमारी के उपचार हेतु आने-जाने वाले बीमार/वृद्ध/चलने फिरने से लाचार यात्री/आम जनता इससे भारी परेशान हो रही है।
महिला यात्रियों को भी सांय/रात्रिकालीन समय में रोड़वेज के इतने दूर नये बस स्टेण्ड तक अथवा बाड़मेर मुख्य शहर के बाहर स्थित चौराहों पर जाने एवं शहर के अन्दर आने में भारी परेशानी उठानी पड़ रही है।
रोड़वेज की उक्त अव्यवस्था से यात्रियों को मजबूरन जान जोखिम में डालकर अवैध वाहनों से यात्रा करनी पड़ रही है। अवैध टैक्सी आदि वाहन भी रोड़वेज की उक्त अव्यवस्था का फायदा उठाकर यात्रियों से दोहरा किराया वसूल कर रहे है।
प्रशासन की उपरोक्त कार्यवाही से बाड़मेर रोड़वेज डिपो की भी भारी आय प्रभावित हो रही है। एक तरफ इतनी बढती महंगाई के चलते आम जनता/यात्रियों पर रोड़वेज की उक्त अव्यवस्था के कारण किराये की दोहरी मार पड़ रही है।
रोड़वेज बसें आम जनता की यातायात सुविधा के लिए है। यात्री सुविधा की रोड़वेज बसें भारी वाहन की श्रेणी में भी नहीं आती है। यात्री सुविधा हेतु रोड़वेज बसों के जनहित में मुख्य सड़क मार्ग से होकर गुजरने पर किसी भी प्रकार की कोई यातायात व्यवस्था बाधित नहीं होगी एवं इससे आम जनता को राहत मिलेगी।
प्रायः अन्य सभी बडे शहरों में भी आम जनता के यात्री सुविधा की रोड़वेज बसे शहर के अंदर से मुख्य सड़क मार्ग से होकर ही निकलती है एवं शहर के अंदर समुचित यात्री सुविधा हेतु टिकट खिड़की व्यवस्था है।
बाड़मेर शहर में अन्य किसी स्थान पर घटित दुर्घटना की आड़ में मुख्य सड़क मार्ग पर चलने वाली यात्री सुविधा की रोड़वेज बसों के शहर में प्रवेश की पाबंन्दी लगाना जनहित में अनुचित है।
बाड़मेर जिला प्रशासन द्वारा आम जनता को राहत पहुंचानें की बजाय परेशान करने की कार्यवाही की जारही है। वर्तमान में उपरोक्त रोड़वेज अव्यवस्था से रोड़वेज डिपों के अन्य मार्ग के यात्रियों की अपेक्षा, चौहटन, गडरा, साचौर, अहमदाबाद आदि मार्ग की तरफ आनें जानें वालें समस्त यात्रीगण तो, बहुत ही अधिक परेशान हो रहे है।
शिव सेना ने जिला प्रशासन बाड़मेर से मांग की है, कि आम जनता की यातायात सुविधा एवं जनहित में बाड़मेर शहर में आम जनता के यात्री सुविधा की रोड़वेज बसों के प्रवेश की अनुमति प्रदान की जावें। ताकि इससे आम जनता की समस्या का समाधान होकर, राहत मिल सकें। एवं इससे निगम हित में रोड़वेज की आय भी प्रभावित नहीं हो सकें। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top