आहत की फ़िक्र नही, अवैध रूप से जमीन पर कब्जे का मामला
बाड़मेर  
कहते है कि पुलिस का काम अपराधियो में डर और आमजन में विश्वास का होता है लेकिन सीमावर्ती बाड़मेर में यह धरातल पर कही दिखाई नहीं दे रहे है ऐसा ही एक मामला सामने आया है एक किसान के खेत में हुए अवैध कब्जे के मामला दर्ज होने के बाद मौके पर पहुँची पुलिस ने वहाँ एक पेड़ पर बने झूले पर झूले खाये और चलती बनी। अपने आप में हर किसी को हैरत में डालने वाली बात जरूर है लेकिन यही सच्च है। जानकारी के मुताबित बाड़मेर के सदर थाने में अवैध रूप से खातेदारी जमीन में कब्जा करने का मामला बाबूलाल नाम के एक किसान ने करवाया था। बाबूलाल के मुताबित उसके खेत में जेसीबी से नींव खोदकर पीजी कॉलेज के कई छात्र नेताओ और विद्यार्थियों ने जबरदस्ती खातेदारी खेत में कब्जा किया और उसके साथ मारपीट भी की। सदर थाने में किसान ने छात्र नेता राजू खोथ, खुमाराम सेंवर, रामकिशन, मुकेश, परसुराम सहित दर्जन भर लोगो के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। पुरे मामले में पुलिस की जांच तो नहीं हुई लेकिन पुलिस पर सवाल जरूर खड़े हो गए है। सदर थाने की तरफ से मामले की जाँच पर मौके पर पहुचे एएसआई शंकरलाल ने कार्यवाही के नाम पर खेत में लगे एक झूले पर झुला खाया और बिना जांच किये चलते बने।वहाँ मौजूद लोगो ने इस बात पर नाराजगी जताई लेकिन खाकी के रौब के आगे उनकी भी कुछ नही चली, अब देखने वाली बात है कि मामले पर आला अधिकारी कुछ करते है या वह भी मामले पर पर्दा डालने का काम करते है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top