साधु-सन्त राष्ट्र की धरोहर, सन्तों पर अभद्र टिप्पणी बेहद ही निन्दनीय:- जैन समाज
बाड़मेर।
जैन धर्म के मुनिराज, राष्ट्रसंत व कड़वे प्रवचन के प्रवचनकार परम पूज्य तरूणसागर जी महाराज साहब पर आम आदमी पार्टी नेता विशाल दादलानी एवं कांग्रेस पार्टी नेता तहसीन पूनावाला द्वारा सोशियल साईट के माध्यम से मुनिराज पर अमर्यादित व अभद्र टिप्पणियां के विरोध में देश भर में जैन समाज के लोगों में भारी आक्रोश व रोष है । जिसको जगह-जगह विरोध प्रदर्शन हो रहे है । इसी कड़ी में गुरूवार को जैन श्रीसंघ, बाड़मेर, जैन युवा संगठन, अखिल भारतीय श्वेताम्बर मूर्तिपूजक महासंघ सहित दो दर्जन से अधिक जैन संस्थाओं, संगठनों व मण्डलों ने भी अमर्यादित व अभद्र टिप्पणी का विरोध किया । रैली के रूप में जैन समुदाय के लोग जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां जैन समुदाय के लोगों ने शान्तिपूर्ण प्रदर्शन के बाद जैन श्रीसंघ अध्यक्ष सम्पतराज बोथरा, डाॅ. बंशीधर तातेड़, एड़वोकेट मुकेश जैन व जैन युवा संगठन अध्यक्ष मुकेश बोहरा अमन के नेतृत्व में बड़ी संख्या में जैन धर्मावलम्बियों ने अतिरिक्त जिला कलेक्टर ओमप्रकाश विश्नोई को माननीय राष्ट्रपति महोदय एवं माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नाम ज्ञापन सौंपें ।
जैन श्रीसंघ अध्यक्ष सम्पतराज बोथरा ने कहा कि आप नेता विशाल दादलानी एवं कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला की राष्ट्रसंत के प्रति इस प्रकार की अभद्र व अमर्यादित टिप्पणी की बाड़मेर जैन समाज घोर निनदा करता है । डाॅ. बंशीधर तातेड ने कहा कि जैन मुनिराज के प्रति इस प्रकार की टिप्पणी इन दोनों की ओछी मानसिकता को दर्शाती है । बेहद ही निन्दनीय है । जैन युवा संगठन के अध्यक्ष मुकेश बोहरा अमन ने बताया कि हरियाणा विधानसभा में राष्ट्रसंत जैन मुनिराज परम पूज्य तरूणसागर जी महाराज साहब के प्रवचन/व्याख्यान के बाद आप नेता विशाल दादलानी एवं कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला द्वारा सोशियल साईट के माध्यम से मुनिराज पर अमर्यादित व अभद्र टिप्पणियों के बाद देश और दुनिया भर के जैन धर्मावलम्बियों की भावनाओं को आहत किया है । जबकि जैन समाज हमेशा से ही मर्यादित व अनुशासित रहते हुए हर समय देश व मानवता के साथ रहा है । वहीं हमारे साधु-सन्त तो इस धरा पर तप व त्याग की प्रतिमूर्ति है । मगर उन पर की गई अमर्यादित व अभद्र टिप्पणियों से हम सभी जैन बन्धुओं के ह्रदय को गहरा आघात लगा है । ज्ञापन के माध्यम से जैन समुदाय के लोगों ने आप नेता विशाल दादलानी एवं कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला से राष्ट्रसंत जैन मुनिराज ज्ञान के सागर परम पूज्य तरूणसागर जी महाराज साहब से प्रत्यक्ष एवं सार्वजनिक रूप से माफी मंगवाने की मांग की । ताकि और भी कोई देश के साधु-सन्तों, धर्माचार्याें के खिलाफ बेहूदा व अमर्यादित बयान देने की हिम्मत ना कर सके । साधु-सन्त हमारे राष्ट्र की अमूल्य धरोहर है । जिनका अपमान हम सहन नही करेंगें । इस दौरान जैन अल्पसंख्यक वेलफेयर सोसायटी, इंड़िया एगेेंस्ट वाॅयलेंस, अखिल भारतीय मूर्तिपूजक श्वेताम्बर जैन युवक महासंघ, शाखा-बाड़मेर, अचलगच्छ युवक परिषद, अणुव्रत समिति, श्री महावीर सेवा ग्रुप सहित दो दर्जन से अधिक संगठनों के प्रीतम जैन हालावाला, गौतमचन्द बोथरा, खेतमल तातेड़, भूरचन्द बोहरा, गौतम भंसाली, पवन मालू, शेखर छाजेड़, मुकेश मालू, गौरव बोहरा, मांगीलाल गोठी, महावीर जैन, सवाई सिंघवीं, कृष्णकुमार, प्रकाशचन्द बोहरा, पवन बोहरा, जोगेन्द्र जैन, रमेश बोहरा, हितेश बोहरा, प्रवीण जैन, एडवोकेट नरेश छाजेड़, बाबुलाल, राहुल बोहरा, किशोर जैन, मदनलाल, रमेशकुमार, गौतमचन्द संखलेचा, सिरेमल बोहरा, पवन जैन सहित बड़ी संख्या में जैन समुदाय के गणमान्य नागरिक एवं युवागण उपस्थित रहे ।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top