बाड़मेर विकास योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करेंः चौधरी
बाड़मेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने विकास योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि इनके क्रियान्वयन एवं आमजन को राहत पहुंचाने में किसी तरह की कौताही बर्दाश्त नहीं होगी।
बाड़मेर, 12 अगस्त। विकास योजनाआंे का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। इसमंे किसी तरह की कौताही नहीं बरती जाए। केन्द्र सरकार ने प्रभावी एवं समयबद्व विकास के लिए निर्वाचित प्रतिनिधियांे के बीच बेहतर समन्वय सुनिश्चित करने के लिए जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति गठित की है। परस्पर समन्वय के साथ जिले मंे विकास योजनाआंे के जरिए आमजन को अधिकाधिक लाभांवित करने के प्रयास किए जाए। बाड़मेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने शनिवार को जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक के दौरान यह बात कही।
सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार की मंशा है विकास योजनाआंे का लाभ किसानांे एवं जरूरतमंदांे को मिले। ऐसे मंे सरकार के निर्देशांे की पालना सुनिश्चित करते हुए धरातल पर इनकी क्रियान्विति होनी चाहिए। इसके लिए अधिकारी एवं जन प्रतिनिधि परस्पर समन्वय से कार्य करें। उन्हांेने कहा कि स्थाई प्रवृति के कार्याें को प्राथमिकता दी जाए। निर्माण कार्याें मंे गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। सांसद ने कहा कि तारबंदी एवं बड़े आगोर वाले टांकांे का निर्माण करवाने के बजाय आवश्यकता के अनुरूप निर्माण करवाकर अधिकाधिक लोगांे को इससे लाभांवित करवाया जाए। उन्हांेने खेल मैदान निर्माण के मामलांे मंे शिक्षा विभाग के अधिकारियांे से विचार-विमर्श कर कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए। सांसद ने कहा कि विकास कार्याें मंे गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए नियमित रूप से इनका निरीक्षण किया जाए। साथ ही अनियमितता बरतने वालांे के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्हांेने कौशल विकास प्रशिक्षण संबंधित टेªड बढाने के निर्देश भी दिए। उन्हांेने कहा कि विशेषकर स्वास्थ्य के क्षेत्र मंे प्राप्त होने वाला समस्त बजट खर्च किया जाए।
इस दौरान शिव विधायक कर्नल मानवेन्द्रसिंह ने कहा कि विलेज हैल्थ कमेटी को आवंटित किए गए बजट का सदुपयोग किया जाए। उन्हांेने कहा कि विकास योजनाआंे मंे जन प्रतिनिधियांे के प्रस्ताव पर विशेष गौर किया जाए। उन्हांेने पेंशन योजनाआंे, श्रमिकांे के आधार कार्ड सीडिंग एवं फसल बीमा संबंधित विभिन्न प्रकरणांे मंे प्रभावी कार्रवाई की जरूरत जताई। ताकि आमजन को वृहद स्तर पर सरकारी योजनाआंे से लाभांवित किया जा सके। बैठक के दौरान चौहटन विधायक तरूणराय कागा ने बाखासर क्षेत्र मंे बेरी निर्माण मंे नियमांे मंे शिथिलता के लिए केन्द्र एवं राज्य सरकार को प्रस्ताव भिजवाने की जरूरत जताई। उन्हांेने मेडिकल रिलीफ सोसायटी की नियमित रूप से बैठकंे आयोजित करने का मामला उठाया। विधायक कागा ने आदर्श स्कूलांे मंे खेल मैदानांे के लिए जमीन आवंटित करवाने की बात रखी। उन्हांेने कहा कि इस तरह के कितने स्कूल है जिनके पास खेल मैदान के लिए जमीन नहीं है। इस पर जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने शिक्षा विभाग के अधिकारियांे को ऐसे स्कूलांे को जमीन आवंटन के लिए प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए।
इस दौरान जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि विकास योजनाआंे के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए नियमित रूप से समीक्षा की जा रही है। संबंधित अधिकारियांे को निर्देशित किया गया है कि स्थानीय स्तर पर भी लगातार मोनेटरिंग की जाए। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने ग्रामीण विकास योजनाआंे की प्रगति से अवगत कराया।
बैठक के दौरान अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच ने जिले मंे महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत करवाए जा रहे कार्याें के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। वहीं अधीक्षण अभियंता हीरालाल अहीर ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत हुए कार्याें के बारे मंे बताया। इस दौरान सिवाना प्रधान गरिमा राजपुरोहित, गिड़ा प्रधान लक्ष्मणराम, धोरीमन्ना प्रधान ताजाराम, चौहटन प्रधान कुंभाराम सेंवर, गडरारोड़ प्रधान तेजाराम समेत विभिन्न जन प्रतिनिधियांे ने विकास योजनाआंे के क्रियान्वयन से संबंधित महत्वपूर्ण सुझाव दिए। दिशा की बैठक मंे विभिन्न तीस विकास योजनाआंे की प्रगति पर विचार-विमर्श किया गया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top