बाड़मेर फीडर इन्चार्ज के विरोध में श्रमिक संघ ने ज्ञापन सौंपा
बाड़मेर
जोधपुर विद्युत वितरण श्रमिक संघ वृत बाड़मेर के महामन्त्री जगदीश सिंह रावल ने बताया की डिस्काम द्वारा तकनीकी कर्मचारियों पर दो दर्जन से अधिक कार्यों की सूची सहित समय सीमा की पाबन्दी के साथ निवारण करने का बोझ डाला हैं जो न्याय संगत नहीं हैं संगठन ने इस तानाशाह फरमान के विरोध में एंव अन्य मुद्दों को लेकर बाड़मेर वृत अध्यक्ष जनक गहलोत के नेतृत्व में प्रतिनिधि मण्डल ने मुख्य अभियन्ता एस. के. शाह को जोधपुर डिस्काम प्रबन्ध निदेशक के नाम ज्ञापन सौपा।
उपखण्ड बाड़मेर ग्रामीण, शहर प्रथम, शहर द्वितीय के सहायक अभियन्ताओं को ज्ञापन सौंपे गए ।
वहीं उपस्थित डिस्काम कोषाध्यक्ष जितेन्द्र छंगाणी ने बताया की बिना किसी संसाधन उपकरण के तकनीकी कर्मचारियों की भयंकर कमी के कारण यह कार्य कार्मिक के लिए अकेले ही करना असम्भव हैं ।
जब निगम तकनीकी सहायकों को कुशल श्रमिक का दर्जा ही नहीं दे रहा हैं तो उन पर यह कनिष्ठ अभियन्ता एवं कुशल कामगारों द्वारा किए जाने वाले कार्यों की जिम्मेदारी क्यों डाली जा रहीं हैं ।
जयपुर डिस्काम में फीडर इन्चार्ज को फिल्ड में होने वाली घटनाओं के लिए दोषी करार देकर उनसे क्षतिपूर्ति की राशि वसूली के फरमान निकाले जा रहे हैं जिनमें अभियन्ताओं को दोष मुक्त समझा जा रहा हैं ।
किसी अप्रिय घटना या नुकसान का सारा जिम्मा एक छोटे तकनीकी कर्मचारी पर डालना डिस्काम का पक्षपात एवं भेद भाव पूर्ण तरीका हैं ।
कर्मचारियों में इस आर्डर के सम्बन्ध में रोष हैं एवं इस आर्डर का तब तक बहिष्कार करेंगे जब तक कैडर के अनुसार कार्य एवं उपयुक्त सुरक्षा उपकरण संसाधन सामग्री उपलब्ध नहीं करवाई जाती एवं उपभोक्ताओं के अनुपात में स्टाफिंग पेटर्न के अनुसार कार्य भार नहीं दिया जाता ।
स्थाई प्रकृति के कार्य ठेकेदारों के माध्यम से ना करवाएं जाकर निगम के कार्मिकों से ही करवाएं जाए ।
इस अवसर पर संरक्षक कौशला राम डऊकिया, निम्बा राम पंवार ,सुरेश फुलवारिया, रतन सिंह तामलौर , खुम्बाराम व अनेकों कार्यकर्ता मौजूद रहे ।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top