बाड़मेर स्तनपान शिशु के सम्पूर्ण स्वास्थ्य की कुंजी –डॉ माहेश्वरी
बाड़मेर 
इंडियन अकादमी ऑफ़ पीडियाट्रिक्स शाखा बाड़मेर] केयर्न इंडिया ,हेल्प एज इंडिया एवं लायंस क्लब ckMesj के संयुक्त तत्वाधान में विश्व स्तनपान सप्ताह के अंतर्गत आयोजित होने वाले जागरूकता कार्यक्रम में आज स्थानीय कन्या महाविद्यालय की छात्राओ को संबोधित करते हुए डॉ राज किशोर माहेश्वरी ने कहा की स्तनपान ही शिशु के सम्पूर्ण स्वास्थ्य की कुंजी हे.माँ के द्वारा शिशु को प्रथम आधे घंटे या जितना जल्दी हो सके स्तनपान प्रारंभ कर देना चाहिए और छ: माह तक केवल और केवल स्तनपान ही कराना चाहिए .
कन्या महाविद्यालय में विश्व स्तनपान सप्ताह के अंतर्गत निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमे कॉलेज छात्राओ ने बढ़ चढ़ कर भाग लिया.निबंध प्रतियोगिता का सयोजन महाविद्यालय की एन एस एस इकाई के द्वारा किया गया जिसमे प्रथम स्थान मुन्नी बी एस सी प्रथम वर्ष ,दितीय स्थान चंपा बी ए प्रथम वर्ष एवं तृतीय स्थान रेखा बी ए प्रथम वर्ष ने प्राप्त किया.
कार्यक्रम के अंत में लायंस क्लब के चेयरमैन श्री दिनेश लुनिया,एवं डॉ राज किशोर माहेश्वरी द्वारा पुरस्कार वितरण किया गया . विश्व स्तनपान सप्ताह के आयोजन में डॉ सुरेन्द्र सिंह सियोल ,डॉ पंकज विश्नोई, श्री शंकर जैन, ,श्री गौतम जी ,महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ हुक्माराम सुथार,एन एस एस कार्यक्रम अधिकारी डॉ म्रणाली चोहान ,डॉ सरीताव्यास,एन एस एस स्वयंसेवकों सहित विद्यार्थी एवं व्याख्याता व् लायंस क्लब के पदाधिकारिगन,उपस्थित थे .
विश्व स्तनपान सप्ताह के अंतर्गत आयोजित होने वाले जागरूकता कार्यक्रम में आज स्थानीय जी एन एम ट्रेनिंग सेंटर जिला अस्पताल बाडमेर पर शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ महेंद्र चौधरी ने माँ के दूध एवं स्तनपान की महती आवश्यकता पर बोलते हुए नर्सिंग कर्मियों को कहा की हमारी जिम्मेदारी जागरूकता फेलाने एवं सही ज्ञान माँ एवं शिशु के परिचारको को देने में महत्वपूर्ण हे.निबंध प्रतियोगिता में ज्योति कँवर,तेजस्विनी एवं हेमाराम ने प्राचार्य नारायण किशन चौधरी,शंकर भवानी से पुरस्कार ग्रहण किया.कार्यक्रम में प्रशिक्षक श्री चेनाराम, कुशलाराम, लिखमाराम सहित समस्त नर्सिंग विद्यार्थी उपस्थित थे.
विश्व स्तनपान सप्ताह के अंतर्गत आयोजित होने वाले जागरूकता कार्यक्रम में आज स्थानीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय मॉल गोदाम रोड पर बालिकाओ को संबोधित करते हुए शिशुरोग विभागाध्यक्ष डॉ हरीश चोहान ने कहा की प्रथम दूध खीस या कोलोस्ट्रम शिशु के जीवन के लिए बहुत हे महत्वपूर्ण हे इसको अवश्यक रूप से पिलाना चाहिये.माँ का दूध ही संपूर्ण आहार हे.कार्यक्रम का शुभारम्भ सरस्वती वंदना के द्वारा किया गया जिसे चंद्रा ,पूजा ,जस्सी,एवं दर्शना ने गाया.कार्यक्रम में विद्यालय की प्राचार्या सहित व्यख्यातागन , कांता चौधरी,लीला, शांति, उमा जोशी,मनीष,एवं ओमप्रकाश माहेश्वरी सहित विद्यार्थी गन उपस्थित थे.

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top