बाड़मेर जिला स्तरीय जन सुनवाई में हुआ कई प्रकरणो का निस्तारण
जिला कलक्टर ने नेहरू नगर निवासी रणजीत भवानी का उपचार करवाने के निर्देश दिए। जन सुनवाई में सेवानिवृत शिक्षक के पेंशन संबंधित प्रकरण का उच्च स्तर पर बात करके मौके पर निस्तारण करवाया गया।
बाड़मेर।
जिला मुख्यालय पर गुरूवार को जिला स्तरीय जन सुनवाई मंे जिला कलक्टर सुधीर शर्मा एवं पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप ने कई प्रकरणांे का मौके पर निस्तारण करते हुए परिवादियांे को राहत प्रदान की। वहीं अन्य प्रकरणांे मंे संबंधित अधिकारियांे को प्रभावी कार्रवाई करते हुए परिवादियांे को राहत पहुंचाने के निर्देश दिए गए।
जिला मुख्यालय पर अटल सेवा केन्द्र मंे जन सुनवाई के दौरान जिला कलक्टर सुधीर शर्मा के समक्ष नेहरू नगर भील बस्ती निवासी श्रीमती विमला पत्नी रणजीत भवानी ने फरियाद पेश कर बताया कि उसके पति के रीढ की हडडी मंे पैरालाइसिस के कारण चलने फिरने मंे लाचार है। उनके दो छोटे बच्चे है। उसकी आर्थिक स्थिति बेहद दयनीय होने के साथ वह अपने पति का इलाज करवाने मंे समर्थ नहीं है। उसने जिला कलक्टर से उसके पति का उपचार करवाने एवं परिवार के गुजारे के लिए मदद करने की गुहार की। इस पर जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.एस.के.एस बिष्ठ को स्वयं मोनेटरिंग करते हुए भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के जरिए रणजीत भवानी का उपचार करवाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक हेमंत खटीक को पालनहार योजना के तहत रणजीत के परिवार को लाभाविंत करवाने के निर्देश दिए। इसी तरह जिला रसद अधिकारी राकेश शर्मा को इस परिवार को एनएचएफए मंे शामिल कर रसद सामग्री उपलब्ध करवाने को कहा गया। इसी तरह एक अन्य मामले मंे सेवानिवृत शिक्षक मांगीलाल बोथरा ने जिला कलक्टर को उसकी पेंशन स्वीकृति के दौरान संपूर्ण लाभ नहीं मिलने के प्रकरण से अवगत कराया। इस पर जिला कलक्टर शर्मा ने तत्काल उच्च स्तर से बात कर इस प्रकरण मंे आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। जन सुनवाई के दौरान पेंशन विभाग से अवगत कराया गया कि संबंधित प्रकरण का निस्तारण कर दिया गया है। साथ ही संबंधित सेवानिवृत कार्मिक को समस्त परिलाभ मिलने शुरू हो जाएंगे। जिला स्तरीय जन सुनवाई मंे मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई, चैहटन प्रधान कंुभाराम सेंवर, सूचना एवं विज्ञान अधिकारी दिलीप जैन समेत विभिन्न विभागीय अधिकारियांे ने परिवादियांे की ओर से पेश किए गए प्रकरणांे को गहनता से सुना। इस दौरान मौके पर निस्तारण योग्य प्रकरणांे को निस्तारित करते हुए परिवादियांे को राहत प्रदान की गई। पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला ने पुलिस से संबंधित प्रकरणांे को सुनकर संबंधित अधिकारियांे को दूरभाष पर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जन सुनवाई के दौरान पेंशन का भुगतान नहीं मिलने, पेंशन खातों की सीडिंग नहीं होने के प्रकरणांे का तत्काल निस्तारण किया गया। इस दौरान एक शिक्षक ने शिक्षा विभाग की ओर से पोस्टिग नहीं देने एवं वेतन वृद्वि का लाभ नहीं देने संबंधित परिवाद पेश किया। इस पर जिला कलक्टर ने शिक्षा विभाग के अधिकारियांे को इस प्रकरण की जांच करवाकर वस्तुस्थिति से अवगत कराने के निर्देश दिए। इसी तरह नेहरूनगर मंे मोबाइल टावर संबंधित प्रकरण मंे संचालक को टावर के चारों तरफ मोटी चारदीवारी बनाने के निर्देश दिए गए। ताकि इसकी वजह से स्थानीय लोगांे को किसी तरह की दिक्कत नहीं हो।
जिला स्तरीय जन सुनवाई के दौरान उचित मूल्य दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई करने, रेनबसेरा के पीछे, नेहरू नगर समेत शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र के कई स्थानांे पर अतिक्रमण हटवाने, सड़क पर डाले गए मलबे को हटाने, मनरेगा मंे मजदूरी का बकाया भुगतान दिलवाने, विकास कार्याें मंे अनियमितता होने, शिक्षकांे की प्रतिनियुक्ति निरस्त करने, खाद्य सुरक्षा योजना मंे नाम जुड़वाने, कंपाउडर की नियुक्ति करवाने, जमीन के म्यूटेशन भरवाने, सहकारी समितियांे से ऋण दिलवाने, विद्युत टांसफार्मर हटवाने, धोरीमन्ना कस्बे मंे हाइवे के दोनांे तरफ अतिक्रमण हटवाने, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताआंे के चयन करने समेत विभिन्न प्रकार की जन समस्याआंे से जुड़े परिवाद पेश किए गए। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने इन प्रकरणांे मंे संबंधित अधिकारियांे को प्रभावी कार्रवाई करते हुए परिवादियांे को राहत पहुंचाने के निर्देश दिए।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top