चिकित्सक मानवीय सेवा भाव से बेहतर परिणाम दें-जिला कलक्टर
स्वास्थ्य सेवाओं के प्रगति इन्डिकेटर में समय पर उपलब्धि अर्जित करें, समय पर कार्यालय में हो उपस्थित
जैसलमेर।
जिला कलक्टर मातादीन शर्मा ने कहा कि चिकित्सक की सेवाएं भगवान का दूसरा रुप है इसलिए उन्हें मानवीय सेवाभाव रखते हुए मरीजों को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान कर यषगान प्राप्त करना है। उन्हांेने कहा कि चिकित्सक का प्रोफेषन बहुत बडा गौरव का प्रोफेषन है उसकों हमें सदैव बरकरार रखना है। उन्होंने कहा कि यह तभी संभव होगा तब वे मरीजों बेहतर सेवाएं प्रदान कर आत्मसंतोष का भाव महसूस करेगें।
जिला कलक्टर शर्मा ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति कि बैठक में यह उदगार व्यक्त किए। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ0 एन.आर.नायक,पीएमओं डाॅ0जे.आर.पंवार,आरसीएचओं डाॅ0आर.पी.गर्ग,ब्लाॅक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0बी.एल.बुनकर,डाॅ0प्रकाष चैधरी,डाॅ0एम.डी.सोनी के साथ ही संबंधित चिकित्सा अधिकारी उपस्थित थे।
जिला कलक्टर शर्मा ने कहा कि चिकित्सक का पेषा इतना महत्वपूर्ण है कि वह मरीज को जीवनदान देता है इसलिए उस पेषे का भाव आमजन में बनाएं रखें ताकि स्वास्थ्य सेवाओं की साख बनी रहें। उन्होंने ब्लाॅक चिकित्सा अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे फील्ड में भ्रमण कर स्वास्थ्य सेवाओं की प्रभावी माॅनेटरिंग करें। उन्होंने विषेष रुप से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सा अधिकारिेयंों को निर्देष दिए कि वे उपस्वास्थ्य केन्द्रों की सुक्ष्मता से माॅनेटरिंग करें एवं स्वास्थ्य केन्द्रों की सफाई व्यवस्था पर विषेष ध्यान दें। उन्होंने यह भी कहा कि जो संसाधन उनके पास उपलब्ध है उसमें बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान कर आमजन का दिल जीतें।
उन्हांेने सभी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देष दिए कि स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति विभाग के जो प्रगति इण्डिकेटर दिए गए है उसमें समय पर उपलब्धि अर्जित करावें। उन्होंने यह भी हिदायत दी कि सभी चिकित्सा अधिकारी एवं उनका स्टाॅफ समय पर स्वास्थ्य केन्द्र पर पहुचें एवं निर्धारित समय तक उपस्थि रह कर मरीजों का उपचार करें एवं इस दौरान कोई भी चिकित्सक अपने आवास पर मरीजों की जांच नहीं करें। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की सूचना मिली तो संबंधित के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने सभी चिकित्सा अधिकारियों को टीम भावना से कार्य कर चिकित्सा के क्षेत्र में बेहतर परिणाम लाने के निर्देष दिए।
जिला कलक्टर ने चिकित्सा अधिकारियों को संस्थागत प्रसव में बढोतरी लाने के साथ ही जननी सुरक्षा योजना में पात्र प्रसुता महिला को प्रोत्साहन राषि का भुगतान समय पर करावें। उन्होंने परिवार कल्याण,टीकाकरण मे भी आषातीत प्रगति लाने के निर्देष दिए। उन्हांेने कहा कि दुरुस्त क्षेत्र में जो चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवायी जा रही है उसकी क्रास चेकिंग भी करावें। उन्हांेने भामाषाह स्वास्थ्य योजना का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कर लोगों को इसकी जानकारी प्रदान करें एवं पात्र लोगों को लाभान्वित करें। उन्होंने प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत दिवस, कलेवा योजना का सफल संचालप करने के निर्देष दिए। उन्होंने मातृ एवं शिषु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए विषेष प्रयास करने के निर्देष दिए। उन्होंने गर्भवती महिलाओं की एएनसी पंजीयन से लेकर प्रसव पष्चात तक सम्पूर्ण चेकअप की व्यवस्था प्रभावी ढंग से करने पर जोर दिया।
उन्हेांने आषा जताई कि चिकित्सा अधिकारी अगली बैठक में स्वास्थ्य सेवाओं के बेहतर परिणाम पेष करेंगें। उन्हांेने कहा कि जो दिषा निर्देष प्रदान किए है उस पर आत्म चिंतन करें एवं स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार लावें।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे फील्ड में स्वास्थ्य सेवाओं के अच्छे परिणाम देकर लोगों को राहत प्रदान करें। जिला कार्यक्रम प्रबंधक आषीष खंडेलवाल ने विभागीय प्रगति की पावर पाइन्ट के माध्यम से जानकारी दी।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top