भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में 140 करोड़ राशि के 3 लाख से अधिक क्लेम बुक
बाड़मेर।
प्रदेश के महंगे व बड़े निजी चिकित्सालयों तथा सरकारी अस्पतालों में केशलेस उपचार के लिये शुरू की गई भामाषाह स्वास्थ्य बीमा योजना (बीएसबीवाई) लाभार्थियो के लिये लाइफ लाइन बन गई हैं। योजना ने 200 दिनों में ही 140 करोड की राषि के 3 लाख से अधिक क्लेम बुक करवाने का आंकड़ा शुक्रवार को पार कर लिया है। योजना के अन्र्तगत अब तक 2 लाख 84 हजार 294 लोगो को कैषलेस उपचार से लाभान्वित किया जा चुका है। प्रदेष में गत वर्ष 13 दिसम्बर से मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने भामाषाह स्वास्थ्य बीमा योजना का शुभारंभ किया था। योजना में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना (आरएसबीवाई) से जुड़े परिवारों को संबद्व निजी व सरकारी चिकित्सालयों में उपचार के लिये भर्ती होने पर सामान्य बीमारी पर 30 हजार तथा गंभीर बीमारी में 3 लाख तक का केषलस उपचार की सुविधा दी गई। 
13 जुलाई से भामाषाह कार्ड से मिलेगा लाभ 
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. सुनील कुमार सिंह बिष्ट ने बताया कि बीएसबीवाई में 13 जुलाई 2016 से भामाषाह कार्ड पर ही लाभार्थी व उसके परिवार को केषलेस उपचार मिल सकेगा। भामाषाह कार्ड में परिवार की मुखिया महिला को ही माना गया है। भामाषाह कार्ड से राषनकार्ड के 12 नम्बर के डिजीटल नम्बरों तथा आरएसबीवाई कार्ड को लिंक करवाना तथा राषनकार्ड के नामों को भी जुड़वाना पड़ेगा। भाामाषाह कार्ड के नम्बरों के आधार पर ही लाभार्थी को योजना का लाभ संबद्व निजी व सरकारी चिकित्सालयों में लाभ मिल सकेगा। 
गंभीर बीमारियों में बनी बीएसबीवाई सहारा 
गंभीर बीमारियों में बीएसबीवाई मरीजों के लिये सहारा बनी है। प्रदेष में हदय रोग, बायपास सर्जरी, हार्ट वाल्व रिपेयर, एंजियोप्लास्टी, कैंसर रोग, ब्रेन सर्जरी, स्पाइनल सर्जरी, फेफडो संबंधी रोग, आईसीयू में भर्ती गंभीर मरीजो का कैषलेस इलाज हो रहा है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top