बाड़मेर। शिक्षा से जुड़कर समाज को नई दिशा देंः मंडल
बाडमेर।
षिक्षा से जुड़कर समाज को नई दिषा दें। प्रतियोगी परीक्षाआंे मंे अधिकाधिक भागीदारी के साथ आईएएस एवं आईपीएस बनकर समाज के विकास मंे महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। मेघवाल समाज शैक्षणिक एवं षोध संस्थान, बाड़मेर के वार्षिक अधिवेषन के दौरान इंडिया टूडे के पूर्व संपादक तथा वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मंडल ने मुख्य वक्ता के रूप मंे कही।
मुख्य वक्ता दिलीप मंडल ने कहा कि षिक्षा के बिना किसी भी समाज के विकास की कल्पना नहीं की जा सकती। उन्हांेने बाड़मेर मंे षिक्षा के लिहाज से किए गए प्रयासांे की सराहना करते हुए कहा कि इस दिषा मंे अभी काफी कुछ काम करने की जरूरत है। समाज मंे जागृति के साथ विषेषकर बालिका षिक्षा को भी प्राथमिकता देनी होगी। उन्हांेने कहा कि असंभव कुछ भी नहीं बषर्ते सुनियोजित ढ़ग से मेहनत की जाए, तो निसंदेह विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाआंे मंे उच्च स्थान प्राप्त करने वालांे मंे स्थानीय लोगांे की तादाद ज्यादा होगी। उन्हांेने युवाआंे को नादेड़ मंे लगातार कई घंटांे तक चलने वाले प्रतियोगिता का जिक्र करते हुए कहा कि वहां प्रतियोगी परीक्षाआंे मंे शामिल होने एवं सफलता प्राप्त करने के लिए कई बार लगातार चैबीस घंटे तक प्रयास किए जाते है। उन्हांेने ऐसा प्रयास बाड़मेर जिले मंे करने की जरूरत जताई। उन्हांेने कहा कि समाज एकजुटता दिखाते हुए सामाजिक बुराइयांे को छोड़ने का प्रण लें। उन्हांेने कहा कि बाड़मेर मंे शमाषाहांे की कमी नहीं है ऐसे मंे गरीब एवं प्रतिभावान छात्रांे को उच्च षिक्षा दिलाने के लिए पूर्ण सहयोग किया जाए।
इस दौरान इतिहासकार ताराराम गौतम ने विभिन्न ऐतिहासिक पहलूआंे का जिक्र करते हुए कहा कि मौजूदा समय की जरूरत है कि हम स्वयं को पहचाने। समाज के विकास के लिए समन्वित प्रयास किए जाए। उन्हांेने दलित समाज के साथ होने वाले विभिन्न घटनाक्रमांे का उल्लेख करते हुए कहा कि इससे निपटने के लिए समाज को एकजुट होकर प्रयास करने होंगे। उन्हांेने समाज के गौरवषाली इतिहास का जिक्र करते हुए उससे प्रेरणा लेने की अपील की।
इस अवसर सामाजिक कार्यकर्ता भंवर मेघवंषी ने समाज मंे फैली कुरीतियांे पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि सामाजिक कुरीतियांे एवं नषे ने समाज को खोखला कर दिया है। उन्हांेने सामाजिक कुरीतियांे को छोड़कर समाज के सक्रिय विकास मंे महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का आहवान किया। समारोह के दौरान चैहटन विधायक तरूणराय कागा ने समाज के विकास मंे हरसंभव मदद करने का भरोसा दिलाते हुए कहा कि वे समय-समय पर समाज के विकास के मुददे विधानसभा के साथ हर मंच पर उठाते रहे है। इस अवसर समाजसेवी रूपाराम धनदे, पूर्व प्रधान उदाराम मेघवाल समेत विभिन्न अतिथियांे ने संबोधित किया। समारोह के दौरान मेघवाल समाज शैक्षणिक एवं शोध संस्थान के अध्यक्ष डा.बी.एल.मंसूरिया ने संस्थान की गतिविधियांे के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। समारोह का संचालन चूनाराम पूनड़ ने किया। समारोह के दौरान विभिन्न सेवाआंे मंे चयनित होने वाले अधिकारियांे एवं कार्मिकांे, प्रतिभावान छात्र-छात्राआंे एवं भामाषाहांे को सम्मानित किया गया। इस दौरान भामाषाह डा.राहुल बम्मानिया एवं हरखाराम वानर ने 1-1 लाख एवं डा.दिनेष परमार ने 50 हजार रूपए देने की घोषणा की। इनका समारोह के दौरान सम्मान किया गया। समारोह के दौरान प्रधान पदमाराम मेघवाल, प्रधान भगवती मेघवाल, तेजाराम कोडेचा, मूलाराम मेघवाल, आसूराम मेघवाल, लक्ष्मण वडेरा, आदूराम बोसिया, भूराराम भील, कन्हैयालाल मेघवाल, निर्भयसिंह मेघवाल,कालूराम सोनेल समेत कई गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top