संसार की समझ के लिए भागवत सुनेः बांके बिहारी
बाड़मेर। 
‘संसार की समझ के लिए भागवत कथा का श्रवण आवश्यक है। व्यक्ति जब लोभ, मोह से ऊपर उठ जाता है, तब भगवान के दर्शन करने की इच्छा जागृत होती है। वहीं वास्तव में भगवान के प्रति सच्ची भक्ति होती है। ’
यह प्रवचन गुरूवार को लक्ष्मी नगर में चल रही श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ के दौरान बाल व्यास श्री बांके बिहारी ने दिए। उन्होंने कहा कि व्यक्ति कई अनैतिक रास्तों से भी पैसा तो प्राप्त कर सकता है, लेकिन संसार को समझ नहीं पाता, वह समझ भागवत श्रवण से ही आ पाती है। भागवत कथा ही अपने आप में सर्वोपरी है, जो स्वयं भगवान ने अपने मुख से इस कथा को प्रचारित किया था। भागवत कथा श्रवण से ही कई पाप नष्ट हो जाते है, इनके संदेशों को स्वयं धारित कर जन-जन में प्रचारित करता है, उसका तो कल्याण ही है। कथा में लुंभाराम माली, मूलाराम जाणी, नरसिंगाराम गौड़, भूराराम गौड़, किशन गौड़, प्रभू चैधरी, रूगराज सहित कई भक्तजन व श्रद्धालुगण उपस्थित रहे।
प्रभात फेरी निकाली, पूजन हुआः 
संगठक प्रभुदयाल शर्मा ने बताया कि गुरूवार को कथा के प्रथम दिन सुबह के समय प्रभात फेरी निकाली, कलश यात्रा निकाली गई। इस दौरान हरीनाम संकीर्तन किया गया। साथ ही सुबह के समय श्रीमद्भागवत पूजन किया गया। उन्होंने कहा कि यह कथा प्रतिदिन दोपहर 3 से 6 बजे 7 जुलाई तक चलेगी।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top