पूर्व विधायक की जमानत के बाद, पुलिस ने अन्य मामले में किया गिरफ्तार
बाड़मेर.
राजस्थान के बाड़मेर जिले के बालोतरा के रीको के क्षेत्रीय प्रबंधक का रास्ता रोक धक्का-मुक्की करने व राजकार्य में बाधा डालने के मामले में पूर्व कांग्रेसी विधायक मदन प्रजापत को शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा के बीच बालोतरा न्यायालय में पेश किया गया था, और न्यायधीश ने जमानत देने से इनकार करते हुए 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिए थे। 
जिस पर आरोपित पूर्व विधायक को बाड़मेर जेल लाया गया था, जहां से उन्हें शनिवार को बाड़मेर एडीजे कोर्ट में पेश किया गया। जहां उन्हें जमानत तो मिल गई। लेकिन विधायक की यह खुशी ज्यादा देर तक नहीं रही और पुलिस ने आरोपित पूर्व विधायक मदन प्रजापत को एक अन्य मामले गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस के अनुसार आरोपित पूर्व विधायक को रीको अधिकारी के साथ धक्का-मुक्की व राजकार्य में बाधा पहुंचाने के मामले में जमानत मिली हैै, लेकिन गुरुवार को बालोतरा में हुए उपद्रव व पुलिस के साथ मारपीट, सरकारी सम्पत्तियों को नुकसान पहुंचाने, तोडफ़ोड़ के मामले में पुलिस ने उन्हें फिर गिरफ्तार कर लिया है।
गौरतलब है कि पिछले एक सप्ताह से शहर में चल रही अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के बीच गुरुवार को स्थिति तनावपूर्ण हो गई। पचपदरा के पूर्व विधायक मदन प्रजापत को गिरफ्तार करने पर कांग्रेस कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए और उन्होंने पुलिस पर पत्थरबाजी कर दी। जवाब में पुलिस ने अश्रु गैस के गोले दागे और बल प्रयोग कर भीड़ को खदेड़ा। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top