स्वच्छ भारत अभियान में सबका सहयोग जरूरीः जिला प्रमुख
बाड़मेर।
स्वच्छ भारत अभियान में सबका सहयोग जरूरी है। जन प्रतिनिधि, आमजन के साथ कार्मिक इस अभियान मंे महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेघवाल ने शुक्रवार को स्वच्छ भारत मिशन की प्रगति के संबंध मंे बाड़मेर पंचायत समिति परिसर मंे आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला के दौरान यह बात कही।
इस दौरान जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेघवाल ने कहा कि इस अभियान की शुरूआत अपने घर से करने के साथ आमजन को इससे जुड़ने के लिए प्रोत्साहित किया जाए। उन्हांेने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान के लिए जन प्रतिनिधियांे, अधिकारियांे एवं कार्मिकांे को कृत संकल्पित होकर कार्य करना होगा। इस अवसर पर जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि इस वित्तीय वर्ष मंे प्रस्तावित ओडीएफ ग्राम पंचायतांे के लक्ष्य को समय पर पूर्ण करें। उन्हांेने ग्राम पंचायतांे को ओडीएफ घोषित करवाने एवं इसके उपरांत भी स्वच्छ भारत अभियान संबंधित गतिविधियां नियमित तौर पर संचालित करने के निर्देश दिए। उन्हांेने बताया कि ग्राम पंचायत को ओडीएफ खुले मंे शौच से मुक्त कराने के लिए पहले ग्राम सभा मंे प्रस्ताव पारित करना होगा। इसके उपरांत दूसरी पंचायत समिति की टीम निर्मित किए गए शौचालयांे का सत्यापन करेगी। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बाड़मेर पंचायत समिति की इस वित्तीय वर्ष 2016-17 मंे 18 ओडीएफ ग्राम पंचायत घोषित करवाने के लक्ष्य के संबंध मंे संबंधित सरपंचांे एवं ग्रामसेवकांे से व्यक्तिशः विचार-विमर्श किया। उन्हांेने संबंधित कार्मिकांे को 31 मार्च 2017 तक समस्त ग्राम पंचायतांे को आवश्यक रूप से खुले मंे शौच से मुक्त कराने का आहवान किया। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने ग्राम पंचायतांे को ओडीएफ खुले मंे शौच से मुक्त कराने की प्रक्रिया के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। उन्हांेने ग्राम पंचायतांे के ओडीएफ घोषित होने के प्रावधानांे के बारे मंे बताते हुए कहा कि सफाई व्यवस्था मंे महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत 4600 कार्य दिवस उपलब्ध कराए जा रहे है। मुख्य कार्यकारी अधिकारी नेहरा ने ग्राम पंचायतवार अब तक निर्मित कराए गए शौचालयांे की जानकारी लेने के साथ प्रस्तावित लक्ष्य प्राप्ति करने की तिथि के बारे मंे सरपंचांे एवं ग्रामसेवकांे को निर्देशित किया। कार्यशाला के दौरान बाड़मेर पंचायत समिति की प्रधान श्रीमती पुष्पा चैधरी ने कहा कि ग्राम पंचायतांे को ओडीएफ घोषित करवाने के लिए वृहद स्तर पर प्रयास किए जाए।
इस दौरान बाड़मेर पंचायत समिति के विकास अधिकारी नवलाराम चैधरी ने वित्तीय वर्ष 2016-17 मंे प्रस्तावित ओडीएफ 18 ग्राम पंचायतांे के साथ अन्य ग्राम पंचायतांे की आनलाइन प्रगति एवं स्वीकृतियांे के बारे मंे जानकारी दी। उन्हांेने अतिशीघ्र उपयोगिता प्रमाण पत्र प्रस्तुत करके लक्ष्य प्राप्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कार्यशाला मंे स्वच्छता समन्वयक पुष्पेन्द्रसिंह सोढ़ा ने स्वच्छ भारत मिशन के बारे मंे जानकारी दी। एक दिवसीय कार्यशाला मंे सहायक अभियंता रामलाल जैन, पंचायत प्रसार अधिकारी औंकारदान बारहठ, विभिन्न ग्राम पंचायतांे के सरंपच,ग्राम सेवक एवं स्वयंसेवी संस्था वल्र्ड विजन के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top