बाड़मेर स्वस्थ्य मां व स्वस्थ्य बच्चे के लिये हो गर्भवती की नियमित जांच: डाॅ. प्रियंका चौधरी 
बाड़मेर।
जननी की प्रसव पूर्व नियमित जांच सुरक्षित प्रसव में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है। नियमित जांच से गर्भकाल के दौरान होने वाली जटिलताओं को दूर किया जा सकता हैं। यह जानकारी नगर सुधार न्यास की चेयरमैन डाॅ. प्रियंका चैधरी ने गुरूवार को राजकीय चिकित्सालय बाड़मेर व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, बायतू में केयर्न एनर्जी, केयर एवं रचना परियोजना के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के शुभारंभ पर गर्भवती महिलाओं से कहीं। उन्होंने बताया कि स्वस्थ्य मां व स्वस्थ्य बच्चे के लिये प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान की पहल प्रदेष में शिशु मृत्युदर में कमी लाने एवं मातृत्व सेवाओं में सुदढ़ीकरण करेगा। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस अभियान के आयोजन से गर्भावस्था एवं प्रसव के दौरान विशेषरूप से जटिल खतरों वाली संभावित गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य संबल मिलेगा। आज बेटी बचाओ अभियान की प्ररेणा से प्रदेष में बेटी व बेटे में भेद कम हो रहा हैं। बेटी जन्म पर शुरू की गई शुभलक्ष्मी योजना को भी आगे बढ़ाते हुयेे मुख्यमं़त्री वसुंधरा राजे ने राजश्री योजना की बजट में घोषणा की है। अब बेटी के जन्म से लेकर उसकी 12 वीं तक की पढ़ाई के लिये सरकार 50 हजार रूपये देगी। उन्होंने कहा कि हर माह 9 तारीख को आयोजित होने वाले प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस अभियान में स्त्री एवं प्रसूति रोग विषेषज्ञ की देखरेख में जांच हो। इस दौरान प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डाॅ. देवेन्द्र भाटिया, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य निदेषालय जयपुर के नोडल अधिकारी डाॅ. उमेष शर्मा, डाॅ. हेमराज, डाॅ. जगराम मीणा, डाॅ. रीटा भाटिया, जिला कार्यक्रम प्रबंधक सचिन भार्गव, जिला आशा समन्वयक राकेश भाटी सहित कई लोग उपस्थित थे।
प्रसव के बाद बच्चे के साथ मां का नया जन्म
डाॅ. चैधरी ने राजकीय जिला चिकित्सालय तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बायतू में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व जांच क्लिनिक का फीता काटकर उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि गर्भकाल में महिलाओं को बहुत समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं। प्रसव होने के बाद बच्चे के साथ ही मां को भी नया जीवन मिलता है। महिला प्रसव पूर्व वजन, लम्बाई, रक्तचाप की नियमित चिकित्सा संस्थान में जांच करवायें।
राजश्री योजना के चैक व बेबी किट वितरित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बायतू में आयोजित कार्यक्रम में डाॅ. चैधरी ने राजश्री योजना के तहत 25 सौ रूपये के चैक प्रसूता अमरूदेवी व कविता को वितरित किया। केयर के रचना प्रोजेक्ट के तहत एक माह पूर्व जन्मी बालिकाओं की माताओं को बेटी बचाओ अभियान के तहत बेबी किट भी वितरित किया गया। केयर्न एनर्जी के सुंदरम ने कहा कि जिले में टीकाकरण अभियान हो अथवा गर्भवती महिलाओं की जांच में महिलाओं व परिवारों को प्रोत्साहित करने के लिये नियमित अभियान चलाया जा रहा है। केयर के दिलीप सरवटे ने बताया कि मिषन इन्द्रधनुष व बेटी बचाओ अभियान को घर-घर तक पहुंचाने के लिये प्रचार-प्रसार में सहयोग किया जा रहा है। इस दौरान सीएचसी प्रभारी डाॅ.चन्द्रकांत तंवर, डाॅ. पंकज चैधरी, केयर के प्रतिनिधि केदार शर्मा सहित चिकित्साकर्मी मौजूद थे।
सीएचसी व पीएचसी पर हुई गर्भवती की जांच
प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस पर गुरूवार को बाड़मेर जिले के सभी सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान का आयोजन कर गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व जांचें की गई। महिलाओं की जांच के बाद निषुल्क दवा वितरित की गई। जिला अस्पतालों से लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में प्रत्येक माह की 9 तारीख को गर्मियों में 1 अप्रैल से 30 सितम्बर तक प्रातः 8 से 2 बजे तक एवं सर्दियों में 1 अक्टूबर से 31 मार्च तक प्रातः 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस क्लिनिक संचालित कर सेवाए प्रदान की जायेगी। गर्भवती महिलाओं को चिकित्सकों व स्त्रीरोग विशेषज्ञों की देखरेख में प्रसवपूर्व स्वास्थ्य जांच एवं परामर्श की निःशुल्क सेवाएं उपलब्ध कराई जायेंगी। प्रदेश में सुरक्षित मातृत्व सुनिश्चित करने के उद्धेश्य से कुशल मंगल कार्यक्रम, सुरक्षित मातृत्व दिवस एवं प्रसूति नियोजन दिवस संचालित किये जा रहे हैं।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top