बाड़मेर की तस्वीर बदलने में जुटे प्रशासनिक अधिकारी
जिला कलक्टर सुधीर शर्मा की अगुवाई में प्रशासनिक अमला पंचायत समिति मुख्यालयां पर पहुंचकर जन प्रतिनिधियां एवं कर्मचारियां को स्वच्छ भारत मिशन से जोड़ने की पहल के साथ विकास योजनाआें के प्रभावी क्रियान्वयन की समीक्षा जुटा है। गुरूवार को जिला कलक्टर शर्मा ने लगातार 12 घंटे तक विभिन्न कार्यक्रमां में शामिल होकर आमजन के लिए सदैव तत्पर रहने वाले कलक्टर के रूप में मिसाल पेश की।
बाड़मेर।
बाड़मेर जिले में विकास योजनाआें के प्रभावी क्रियान्वयन एवं स्वच्छ भारत मिशन के लिहाज से बाड़मेर को ओडीएफ खुले में शौच से मुक्त करवाने के लिए जिला कलक्टर सुधीर शर्मा की अगुवाई में प्रशासनिक अमला जुटा है। मौजूदा समय में जहां एक ओर राजस्व लोक अदालतां के जरिए आमजन को राहत पहुंचाई जा रही है। वहीं दूसरी ओर कई बार प्रशासनिक अमला भी लगातार 10 घंटे तक विभिन्न स्थानां पर पहुंचकर स्वच्छ भारत मिशन से आम आदमी को जोड़ने की कवायद में जुटा है।
बाड़मेर जिले में स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रत्येक घर में शौचालय निर्माण करवाने के लिए जन प्रतिनिधियां एवं गणमान्य नागरिकां को प्रोत्साहित करने में जिला कलक्टर सुधीर शर्मा स्वयं जुटे है। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा की अगुवाई में मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच के साथ विभिन्न प्रशासनिक अधिकारी पिछले कई दिनां से प्रत्येक पंचायत समिति मुख्यालयां का दौरा कर जन प्रतिनिधियां एवं सरकारी कार्मिकां से मिल रहे है। इस अभियान की नियमित रूप से प्रति दिन समीक्षा भी की जा रही है। ग्राम पंचायत स्तर पर ग्रामसेवक एवं सरपंचां से सीधी बात करके उनको इस अभियान में जुड़ने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके अलावा विकास योजनाआें की समीक्षा तथा मनरेगा योजनान्तर्गत समायोजन,निर्धारित समय पर श्रमिकां को मजदूरी के भुगतान के साथ गुणवत्तायुक्त कार्यां पर विशेष बल दिया जा रहा है। 
लगातार 12 घंटे तक कार्यः जिला कलक्टर सुधीर शर्मा इन दिनां जिले की तस्वीर बदलने के लिए कई बार 10 से 12 घंटे तक कार्य कर रहे है। ऐसे ही गुरूवार को जिला कलक्टर सुधीर शर्मा प्रातः 11 बजे से रात्रि 11 बजे तक लगातार विभिन्न कार्यक्रमां में शामिल हुए। प्रातः 11 बजे बायतू पंचायत समिति मुख्यालय पर बायतू एवं गिड़ा के जन प्रतिनिधियां एवं कार्मिकां से रूबरू हुए। इसके उपरांत जिला कलक्टर ने समदड़ी,सिवाना, बालोतरा, पाटोदी, कल्याणपुर के जन प्रतिनिधियां से मिलने के बाद जसोल में राजस्व लोक अदालत शिविर में आमजन की समस्याएं सुनी। इसके उपरांत तिलवाड़ा में देर रात तक रात्रि चौपाल में आमजन की समस्याएं सुनकर समाधान के निर्देश दिए।
प्रत्येक घर में बने शौचालयः जिला कलक्टर सुधीर शर्मा एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा जन प्रतिनिधियां, सरकारी कार्मिकां एवं गणमान्य नागरिकां से मिलकर समझाइश में जुटे है कि प्रत्येक घर में शौचालय बने। उनके मुताबिक प्रत्येक व्यक्ति को शौचालय की उपयोगिता के बारे में अवगत कराया जाए। इसके लिए प्रत्येक गांव में मौजीज लोगां को भी इस अभियान से जुड़ने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।
लक्ष्य आवंटित,नियमित समीक्षाः जिला कलक्टर सुधीर शर्मा के निर्देशन में प्रत्येक पंचायत समिति को शौचालय निर्माण का लक्ष्य आवंटित किया गया है। बाड़मेर जिले इस वित्तीय वर्ष में 215 ग्राम पंचायतां को ओडीएफ घोषित करवाने के साथ 1 लाख 76 हजार 19 शौचालय बनाए जाने प्रस्तावित है। जिला मुख्यालय पर इसकी नियमित रूप से समीक्षा की जा रही है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top