बाड़मेर ओरण दिवस पर ओरण की हुई पूजा, वृक्षों को बांधे रक्षासूत्र 
संरक्षण के अभाव में दम तोड़ रही है ओरण गोचर :- बोहरा
बाड़मेर 
जिला मुख्यालय से 18 किमी दूर चौहटन रोड पर स्थित रानीगाँव में फांटा पर फैली धर्मपुरी जी महाराज की विशाल ओरण में मंगलवार को ओरण दिवस के उपलक्ष में ओरण बचाओ आंदोलन, बाड़मेर के बैनरतले कार्यक्रम का आयोजन हुआ । 26 अप्रैल, 2002 में ओरण गोचर को बचाने को लेकर रानीगाँव में हुए विशाल ओरण बचाओ आंदोलन की स्मृति में हर वर्ष की भांति 26 अप्रैल मंगलवार को ओरण दिवस हर्षोल्लास से मनाया गया ।
ओरण दिवस पर कार्यक्रम रंगकर्मी व् संस्कृति विशेषज्ञ ओम जोशी के मुख्य आतिथ्य एवं ओरण बचाओ आंदोलन के जिला संयोजक अहिंसा प्रेमी मुकेश बोहरा अमन की अध्यक्षता में आयोजित हुआ ।
ओरण दिवस पर रानीगाँव फांटा स्थित धर्मपुरी जी महाराज की ओरण में धर्मपुरी जी महाराज व् ओरण की पूजा अर्चना की गई । वहीँ 130 बीघा से अधिक भूभाग पर फैली ओरण में ओरण प्रेमियों ने वृक्षो को रक्षा सूत्र बाँध ओरण गोचर व् वृक्षो को बचाने का संकल्प लिया । 
इस अवसर पर मुख्य अतिथि ओम जोशी ने कहा कि ओरण गोचर क्षेत्रों के संरक्षण से पर्यावरणीय समस्याओं का स्थायी समाधान किया जा सकता है । समुदाय और प्रशासन को मिलकर ओरण गोचर संरक्षण की कवायद करनी चाहिए । पिछले 14 वर्षों से ओरण गोचर सरक्षण को लेकर कार्य कर रहे ओरण बचाओ आंदोलन के जिला संयोजक मुकेश बोहरा अमन ने कहा कि 
जिले भर में पसरी आमजन की आस्था का केन्द्र ओरण गोचर पर जिला प्रशासन की उपेक्षा के चलते अतिक्रमणों को घटनाएं बढ़ रही है ।
इस दौरान पवन खत्री, अनिलकुमार, महावीर जैन, रवि मालू, किशनसिंह राव, नखत सिंह, जालम सिंह, सुरताराम, पोकरराम, देराज राम , राहुल बोहरा, भीमाराम सहित बड़ी संख्या में ओरण प्रेमी उपस्थित रहे ।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top