बाड़मेर राजपूत समाज में रोष, कृषक परमार आरक्षण की मांग को लेकर सैकड़ो युवा हुए एकजुट
बाड़मेर 
कृषक परमार आरक्षण की मांग को लेकर बाड़मेर जिले में राजपूत समाज के लोग सड़को पर उतर गए है। प्रवीणसिह आगौर की गिरफ्तारी का मामला थमने का नाम ही नही ले रहा है। राजपूत समाज के लोग सोमवार सुबह से ही जिला मुख्यालय स्थित महावीर पार्क में सैकड़ो लोग एकत्रित होकर आगामी रणनीति तैयार कर रहे है। गौरतलब है कि करणी सेना बाड़मेर के जिलाध्यक्ष प्रवीणसिंह आगोर को कोतवाली पुलिस ने परिशांति भंग करने की आशंका केे चलते रविवार शाम को गिरफ्तार कर रात करीब 8.30 बजे ही पुलिस ने आगोर को मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश कर जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिए गए। मजिस्ट्रेट के आदेश के बाद कोतवाली पुलिस प्रवीणसिंह को जेल प्रशासन को सुपुर्द कर दिया था। उन्होंने परमार राजपूत कृषक समाज को एक मार्च तक आरक्षण परिलाभ नहीं मिलने की स्थिति में आत्मदाह करने की चेतावनी दी थी, जिस पर पुलिस ने उन्हें रविवार शाम को गिरफ्तार किया। प्रवीणसिंह के गिरफ्तारी के मामले को लेकर राजपूत समाज में रोष व्याप्त है।
आगौर की गिरफ्तारी को लेकर कर रहे रणनीति तैयार
आगोर की गिरफ्तारी की जानकारी मिलते ही उनके समर्थक व युवा कोतवाली के बाहर एकत्र हो गए थे। लेकिन पुलिस प्रशासन ने उनकी एक नही सुनी था। गिरफ्तारी के पश्चात देर रात गांधीनगर स्थित राजपूत समाज सभा भवन में एक बैठक हुई, जिसमें भोमसिंह बलाई ने चेतावनी दी कि यदि प्रवीणसिंह को रिहा नहीं किया गया तो राजपूत समाज उग्र प्रदर्शन करेगा। जिसको लेकर सोमवार सुबह से ही राजपूत समाज के लोग महावीर पार्क में एकत्र हो गए है। वहां पर गिरफ्तारी को लेकर रणनीति तैयार की जा रहा है। , जिसकी जिम्मेदारी पुलिस व प्रशासन की होगी। उन्होंने आगोर की गिरफ्तारी को सरकार, पुलिस व प्रशासन की ज्यादती बताया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top