दिव्यांगो में दिव्य क्षमता है जरूरत है उनको आगे बढाने की : शुक्ला 
बाड़मेर 
शारीरिक रूप से अशक्त लोगो के पास एक दिव्य-क्षमता है । इन क्षमतो वाले लोगो को गांवो से पहचान कर उन्हे हर तरह से निपुण करने के साथ उनमें आत्मविश्वास जगाने के साथ उनके हुनर को पहचान कर तरासने का अनुकरणीय कार्य सत्य साई स्कूल की टीम कर रही है जो यहां के दिव्यागो के विकास के लिये अच्छा प्रयास है ।
ये बात भारत सरकार के सूचना एंवम प्रसारण मंत्रालपय की क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय की निदेशक ऋतु शुक्ला ने सत्य साई अंध एंवम मूक बघिर विधालय में कही । उन्होने बताया कि हर समाज के लोगो को भी ऐसे बच्चो के प्रति ना केवल संवेदनशील बनने के साथ सामाजिक स्तर पर भी इनके प्रति अच्छी सोच रखने की जरूरत बतायी साथ ही बच्चो द्वारा ग्रहण की जा रही शिक्षा एंवम दिनचर्या को देखने की भी अपील की । 
इस अवसर पर उन्होने बच्चो के संगीत को सुनने के साथ /ब्रेल लिपि से शिक्षा ग्रहण की जानकारी लेने के साथ बच्चो के हर कार्य को प्रोत्साहित किया । अन्ध एंवम मूक-बघिर बच्चो पढाई एंवम गीत एंवम नाटक के माध्यम से भी अनेक प्रस्तुतिया प्रदान की ।
कार्यक्रम के शुरूआत में स्कूल के प्रभारी सत्यनारायण ने विस्तृत रूप से बच्चो के दिनचर्या एंवम शिक्षा संगीत के साथ अन्य दैनिक गतिविधियो की विस्तृत जानकारी प्रदान की । उन्होने बच्चो से सरकार की उनके लिये बनी योजनाओ की जानकारी प्राप्त करने के साथ ग्रामीण क्षेत्र में उनके परिवारो के विकास के लिये बनी सरकारी योजनाओ का लाभ लेने के लिये भी जागरूक बनने की जरूरत बतायी । 
बालोतरा में आयोजित कार्यक्रम में पत्रकार एंवम सामाजिक कार्यकर्ता कूपाराम पंवार एंवम चन्द्रप्रकाश व्यास ने स्वावलंबन एक नयी पहचान की ओर अभियान की जानकारी लोगो को प्रदान करते हुये कहा कि जागरूकता से ही योजनाओ का लाभ उठाया जा सकता है ।
निदेशालय की निदेशक ऋतु शुक्ला ने बाडमेर एंवम जैसलमेर जिले के सात ब्लाको के अनेक गांवो का दिनांक बाईस फरवरी से छब्बीस फरवरी को पांच दिवसीय दौरे में स्वावंलबन एक नई पहचान की ओर के साथ यहां कि भोगेलिक परिस्थितियो एंवम मूलभूत सुविधाओ की जानकारी प्राप्त करने के साथ विशेष कर यहां के सीमावर्ती लोगो के जीवट को सराहनीय बताया । उन्होने कहा कि स्वावलंबन जागरूकता अभियानो के तहत यहां के गरीब लोग सरकार की सभी योजनाओ से जुडकर लाभ उठाये ।अभियानो के दौरान जिला प्रशासन/ग्राम पंचायतो/कोशल एंवम आजीविका मिशन/श्रमिक विभाग /नेहरू युवा केन्द्र/स्ंवयसेवी संस्थाओ इत्यादि के सहयोग से भी सरकार की योजनाओ को आम लोगो तक पहुचाने में आसानी हो रही है । 
उन्होने यह भी बताया कि केन्द्र सरकार की गरीब लोगो के लिये सामाजिक सुरक्षा योजना /प्रघानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना/प्रधानमंत्री जीवन बीमा योजना/अटल पेशन योजना/डिजिटल इन्डिया/स्किल इन्डिया/मजदूरो एंवम किसानो से जुडी अनेक योजनाओ का लाभ दूर-दराज के ग्रामीण जागरूक होकर लाभ उठाये । 
बाडमेर- जैसलमेर के सीमावर्ती क्षेत्र की कठिन परिस्थतियो को देखते हुये उन्होने कहा कि हमारे बुर्जगो ने जल संरक्षण के क्षेत्र में अनुकरणीय कार्य किया हुआ है जिसके कारण वो ऐसी कठिन परिस्थतियो में भी आराम से रहते थे । हमको सरकार के साथ मिलकर जल स्वावंलबन योजनाओ से जुडकर पुराने जल संरक्षण के तरीको को भी पुर्नजीवित करने के प्रयास करने होगे ।उन्होने वर्षा के पानी के एक -एक बून्द को बचाने की भी अपील की । 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top