सरकार रिफाइनरी लगाने में जानबूझ कर देरी कर रही : गहलोत
जोधपुर
पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा पर चौतरफा हमला करते हुए कहा कि राज्य की वसुंधरा सरकार रिफाइनरी लगाने में जानबूझ कर देरी कर रही है। गहलोत सोमवार को लाचू कॉलेज में आयोजित प्रेस वार्ता में पत्रकारों के सवालों के जवाब दे रहे थे। वे राजस्थान रिफाइनरी बचाओ अभियान समिति की ओर से लाचू कॉलेज में आयोजित संभागीय बैठक के अंतराल के दौरान पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि अब तो लोहे,सीमेंट और तेल के भाव कम हो गए हैं, तब भी सरकार की नींद नहीं खुल रही है। जब से थार में तेल निकला है, तब से षडयंत्र के रूप में माहौल बनाया गया। जबकि रिफाइनरी के लिए मार्च 2013 में ही एमआेयू हो चुका है। गहलोत ने कहा कि हाकम बदलता है लेकिन हुकम नहीं बदलता है। अब तो यह कह कर काम ठप हो गया है कि रिफाइनरी घाटे का सौदा है।
अब तो सरकार पर अरबों रुपए के घपले का संदेह है। गहलोत ने पूर्व सांसद हरीश चौधरी के बयान का उल्लेख करते हुए कहा कि अब सरकार का यह रवैया है कि जालोर-बाड़मेर को लड़वा दो, ताकि यह कह सकें कि रिफाइनरी कैसे लगाएं। उन्होंने कहा कि समिति गांधीवादी तरीके से संघर्ष चलाएगी।
पूर्व सांसद हरीश चौधरी ने कहा कि रिफाइनरी लगवाने के लिए गैर राजनीतिक समिति का गठन किया गया है। इसमें कोई भी दल या व्यक्ति शामिल हो सकता है। इस मौेके पूर्व विधायक मदन प्रजापत भी मौजूद थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top