एड्स से डरना नहीं लड़ना है
बाड़मेर 
नियमित जांच एवं जागरूकता से हम अनेक बीमारियों से स्वयं का बचाव कर सकते हैं, एच.आई.वी./एड्स की रोकथाम हेतु हमारी सावधानी ही पर्याप्त है। यह विचार चैहटन ब्लाॅक के गांव बुरहान का तला में आयोजित स्वास्थ्य जांच एवं जागरूकता शिविर में संयुक्त निदेशक सुनिल कुमार बिस्ट ने व्यक्त किये।
शुभम् संस्थान के प्रबन्धक मुकेश व्यास ने बताया राष्ट्रीय एड्स नियन्त्रण संगठन भारत सरकार, नई दिल्ली के निर्देशानुसार राजस्थान स्टेट एड्स कन्ट्रोल सोसायटी, जयपुर व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, बाड़मेर के मार्ग दर्शन में स्वास्थ्य जांच एवं जागरूकता शिविरों का आयोजन प्रवासी नागरिकों व आमजन हेतु किया जा रहा है। 27 अक्टूबर से आयोजित हुए शिविरों में शुभम् संस्थान की कार्यक्रम अधिकारी वन्दना गुप्ता के निर्देशन में सात सदस्य टीम द्वारा एच.आई.वी./एड्स हेतु जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।
शिविर आयोजन के दौरान विषय विशेषज्ञ डाॅक्टर अपनी सेवाएं दे रही हैं वहीं मरीजों की निःशुल्क जांच की जाकर उन्हें निःशुल्क दवाइयों का वितरण किया जा रहा है। शिविर में चैहटान ब्लाॅक मुख्य चिकित्सा अध्धिकारी ने उपस्थित रहकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। स्वास्थ्य शिविरों में अमित सत्संगी, भगवानसिंह, डाॅ. विजयसिंह सहित अनेकों द्वारा अपनी सेवाएं दी जा रही है। वहीं शुभम् संस्थान के कलाकारों द्वारा जगह जगह नुक्कड़ नाटक, रैली आदि के माध्यम से आम जन को शिविरों में पहुंचने हेतु जानकारी प्रदान कर रहे हैं। 31 अक्टूबर से 3 नवम्बर तक शिव ब्लाॅक के चयनित गांवों में शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top