लौहपुरूष पटेल के विचारो को जीवन में आत्मसात करें -जोशी 
बाड़मेर 
लोह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल ने देशकी आजादी के बाद रियासतो का एकीकरण करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी । युवाओ को उनके द्वारा देश के विकास एंवम एकता के लिये किये गये कार्याे एंवम विचारो को जीवन में आत्मसात करने की अपील की ।
ये अपील भारत सरकार के नेहरूयुवा केन्द्र एंवम क्षेत्रीय प्रचार कार्यालय बाडमेर द्वारा राष्टीय एकता दिवस पर तरूण विधा मंदिर सीनीयर विधालय के प्रागण में आयोजित विचार गोष्ठी को सम्बोन्धित करते नेहरू युवा केन्द्र के युवा समन्वयक ओमप्रकाश जोशी ने व्यक्त किये ।
जोशी ने बताया कि देश के विकास एंवम एकता के लिये युवाओ को हमेशा शांन्ति एंवम सदभाव के रास्ते पर चलने के साथ हर धर्म एवमं मजहब के लोगो का सम्मान करने की जरूरत बतायी । 
जोशी ने बताया कि सभी धर्मो की पवित्र ग्रन्थो में प्रेम ओर सद्भाव तथा शान्ति का संदेश लिखा हुआ है । उसके अनुरूप चलकर हम सभी को सब धर्माे के लोगो का आदर एंवम सम्मान करके देश का आगे बढाने की जरूरत है। इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता एंवम अध्यापक तीलाराम सेजू ने बताया कि लोह पुरूष सरदार पटेल ने रियासतो का एकीकरण कर एक भारत बना कर दिया हम लोगो को उनके बताये मार्ग पर चलने की जरूरत बतायी।उन्होने युवाओ को सरदार पटेल के स्वच्छता एंवम महिलाओ को आगे लाने के कार्यो की भी जानकारी प्रदान करते हुये कहा कि युवाओ को दृढनिश्चयी एंवम राष्ट की एकता के लिये हमेशा तत्पर रहने की आवश्यकता पर बल दिया। इस अवसर पर स्कूल में राष्टीय एकता दौड /राष्टीय एकता शपथ एंव लोह पुरूष के जीवन से जुडे प्रश्नो की प्रश्नोतरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें विजेता ग्यारह प्रतिभागीयो को ने0यु0के0दुवारा पुरस्कृत किया गया ।
सुबह मुख्य कार्यक्रम में भी गांवो से जुडे सैकडो युवाओ ने राष्टीय एकता दौड में भाग लिया एंवम राष्टीय एकता की शपथ ली । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला कलेक्टर मधुसुदुन शर्मा थे । 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top