बाड़मेर नाला निर्माण की फाइल तलब, फर्जीवाडे़ की होगी जांच

जिला कलक्टर मधुसूदन शर्मा ने जिला जन अभाव अभियोग निराकरण एवं सतर्कता समिति की बैठक मंे प्रकरणांे की समीक्षा करते हुए कहा कि सतर्कता समिति के निर्णयांे की पालना सुनिश्चित की जाए।
बाड़मेर।
बाड़मेर जिला कलक्टर मधुसूदन शर्मा ने जिला जन अभाव अभियोग निराकरण एवं सतर्कता समिति की बैठक के दौरान विभिन्न प्रकरणांे की समीक्षा करते हुए गांधी नगर नाला निर्माण की फाइल पेश करने के निर्देश दिए। ताकि इसके निर्माण मंे कौताही बरतने वाले कार्मिकांे के खिलाफ कार्यवाही की जा सके। उन्हांेने इस दौरान गांधी नगर के बाशिंदांे को गंदे नाले की समस्या से अंतरिम राहत दिलाने के लिए इसकी नियमित रूप से सफाई करने के निर्देश दिए।
बैठक के दौरान जिला कलक्टर ने कहा कि सतर्कता समिति की बैठक मंे लिए गए निर्णयांे की पालना सुनिश्चित की जाए। इसमंे किसी तरह की कौताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्हांेने कहा कि समिति की समक्ष पेश होने वाली शिकायतांे की विस्तृत जांच करने के साथ पूरे दस्तावेजांे के साथ रिपोर्ट प्रस्तुत करें। उन्हांेने कहा कि गंभीर अनियमितता वाले प्रकरणांे मंे एफआईआर दर्ज कराई जाए।
बैठक के दौरान गांधी नगर स्थित नाले की गंदगी से निजात दिलाने के मामले मंे जिला कलक्टर ने नगर परिषद के अधिकारियों को समिति की आगामी बैठक से पूर्व इसके स्थाई समाधान करने के निर्देश दिए। नगरपरिषद के अधिकारियांे ने बताया कि इस समस्या के निदान के लिए मूलसिंह भाटी के घर से पूर्व पार्षद नवलाराम चैधरी के घर तक भूमिगत बड़ी पाइप लाइन के जरिए नाले को डायवर्ट किया जाएगा। जिला कलक्टर ने इसके लिए टेंडर निकालकर कार्य प्रारंभ करने के निर्देश दिए। इस दौरान पूर्व मंे निर्मित नाले के निर्माण के दौरान लेवल एवं अन्य तकनीकी पहलूआंे को नजरदांज करने को गंभीरता से लेते हुए जिला कलक्टर ने संबंधित फाइल प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्हांेने इस समस्या के स्थाई समाधान होने तक इस नाले की साप्ताहिक रूप से नियमित सफाई की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।
इस दौरान चेतरोड़ी निवासी देशलाराम की ओर से प्रस्तुत नरेगा योजना मंे फर्जीवाड़ा कर भुगतान नहीं देने एवं मृत व्यक्ति का भुगतान उठाने के मामले मंे बताया गया कि इसको लेकर पुलिस थाना गिराब मंे तत्कालीन सरपंच, ग्रामसेवक मोहम्मद इदरीश एवं मेट जगमालसिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। जिला कलक्टर ने विकास अधिकारी को इस मामले की नियमित मोनेटरिंग कर जांच की प्रगति से अवगत कराने के निर्देश दिए। इसी तरह उपखंड अधिकारी शिव को मनरेगा योजना मंे मृतकांे के नाम से भुगतान उठाने के मामले मंे पुनः जांच कर तथ्यांे के साथ रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए गए। इस संबंध मंे असाड़ी निवासी भूरसिंह ने ग्राम पंचायत गिराब मंे मजदूरांे के फर्जी जोब कार्ड बनाकर एवं मृतकांे के नाम से भुगतान उठाने संबंधित शिकायत पेश की थी। इस मामले में समस्त पक्षांे के बयान लेकर जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा गया। 
बैठक मंे बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन एवं चैहटन विधायक तरूणराय कागा ने कहा कि समिति की निर्णयांे की पालना सुनिश्चित की जाए। साथ ही गंभीर प्रवृति के मामलांे में निष्पक्ष एवं गहनता से पूर्ण जांच की जाए। नांद निवासी करनाराम के मामले मंे जिला कलक्टर ने आगामी बैठक 10 सितंबर से पहले विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। इस दौरान डिस्काम के अधिकारियांे की ओर से पेश किए गए जबाव पर असंतुष्टि जाहिर करते हुए जिला कलक्टर एवं विधायकगण ने कहा कि यह बेहद गंभीर मामला है कि सतर्कता समिति की बैठक मंे प्रार्थी को विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराने के निर्णय के बावजूद ऐसा नहीं किया जा रहा है। जिला कलक्टर ने डिस्काम के अधिकारियांे को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर आगामी बैठक मंे विद्युत कनेक्शन जारी करने के साथ इसकी पालना रिपोर्ट पेश नहीं हुई तो उनके खिलाफ कार्यवाही के लिए विभाग को लिखा जाएगा। इस संबंध मंे नांद निवासी करनाराम ने शिकायत की थी कि उनके नाम से जारी विद्युत कनेक्शन डिस्काम के कार्मिक की तथाकथित मिलीभगत से अन्य व्यक्ति पन्नाराम को दे दिया गया है।
इस दौरान ग्राम पंचायत जसाई मंे पाइप लाइन बिछाने के उपरांत भी जलापूर्ति नहीं होने के मामले मंे बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन एवं जलदाय विभाग के अधिशाषी अभियंता नेमाराम परिहार का संयुक्त भ्रमण का कार्यक्रम निर्धारित कर वस्तुस्थिति से अवगत कराना तय किया गया। इस संबंध मंे बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने सतर्कता समिति मंे प्रकरण पेश किया था। बैठक के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रघुनाथ गर्ग, बालोतरा नगर परिषद के सभापति रतन खत्री के अलावा डिस्काम, जलदाय विभाग, नगर परिषद समेत संबंधित विभागांे के अधिकारी उपस्थित रहे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top