पदमाराम ने अनुसूचित जाति वर्ग में आॅल इंडिया पीएमटी में 165वीं रैंक अर्जित की
जैसलमेर
तहसील जैसलमेर के छोटे से गांव जावंध नई के होनहार विधार्थी पदमाराम पुत्र चैथाराम मेघवाल ने आॅल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट में अनुसूचित जाति वर्ग में 165वीं रैंक अर्जित की है वहीं राज्य की रैंक में 59वीं रैंक अर्जित की है। गरीब परिवार के पदमाराम ने मेडिकल परीक्षा में उपलब्धि हासिल करके जिले का नाम रोषन किया है एवं यह भी दिखा दिया है कि षिक्षा के लिए केवल धन ही नहीं बल्कि उसकी कडी मेहनत ही काम आती है।
ग्रामीण परिवेष के होनहार विधार्थी पदमाराम ने 8वीं तक की षिक्षा चांधन षिक्षण संस्था से हासिल की, उसके बाद उसने सीकर के भारतीय षिक्षण संस्थान से कक्षा 9 से 12वीं तक की षिक्षा अर्जित की। उसने माध्यमिक षिक्षा बोर्ड कक्षा में 74.5 प्रतिषत अंक अर्जित किया वहीं उच्च माध्यमिक षिक्षा बोर्ड विज्ञान वर्ग में 72.6 प्रतिषत अंक अर्जित करके प्रथम श्रेणी प्राप्त की। पदमाराम ने अपनी इच्छा शक्ति के आधार पर उसने कोटा से एक साल की कोचिंग पीएमटी के लिए की।
पदमाराम ने वर्ष 2015 में आयोजित आॅल इण्डिया प्री मेडिकल टेस्ट की परीक्षा दी एवं उसमें अनुसूचित जाति वर्ग में 165वीं रैंक हासिल की। वास्तव में पदमाराम होनहार विधार्थियों से यह सीख मिल रही है कि षिक्षा के लिए गरीबी कोई वक्त नहीं रखती है बल्कि जिस विधार्थी की षिक्षा के प्रति लगन एवं उसकी निष्ठा ही काम आती है, चाहें उसे कम से कम सुविधा भी मिलें।
पदमाराम के आॅल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट में चयन होने पर उनके परिजनों में खुषी की लहर जगी है एवं उसके पिता चैथाराम जो कि तहसील कार्यालय जैसलमेर में सहायक कर्मचारी पद पर कार्यरत है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top