बाड़मेर विधायक ने दी भूख हड़ताल की चेतावनी
खाद्य सुरक्षा योजना में गरीबो को वंचित करने का मामला ।
बाड़मेर
बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने खाद्य सुरक्षा योजना में गरीबो के नाम पुनःजोड़ने की मांग को लेकर पुनःसर्वे कराने की मांग ज़िला कलेक्टर से की है।विधायक जैन ने शनिवार को ज़िलाधीश को दिए लिखित में कहा कि खाद्य सुरक्षा योजना में ज़िले में हजारो गरीब परिवारो के नाम काट दिए गए जो गरीब जनता के साथ धोखा है।बाड़मेर शहर जिसमे पूर्व में 18 हजार गरीब परिवारों को इस योजना का लाभ मिल रहा था लेकिन इस सरकार ने आते ही हजारों गरीब परिवारो के नाम काट दिये और वर्तमान में शहर में बीपीएल और अंतोदय को छोड़कर शहर की सवा लाख की आबादी में केवल 236 परिवारों को ही खाद्य सुरक्षा योजना का लाभ दिया जा रहा है।बड़ी हास्यपद बात है कि सवा लाख की आबादी में केवल 236 परिवारो को ही शामिल किया गया है।गाँवो में भी एक एक ग्राम पंचायतो में 500 से ज्यादा नाम काट दिए गये यहाँ तक कि गरीब विधवाओ के नाम भी इस योजना में काट दिए गए।उन्होंने कहा कि एक तरफ जहा पुरे क्षेत्र में अकाल एवम् सूखे की स्थिति है वही सरकार ने ऐसे मौके पर गरीब को मिल रहे गेंहू को जो रोकने का काम किया है यह गरीबो के साथ कुठाराघात है।
विधायक जैन ने कहा कि इस मामले को लेकर पूर्व में मैंने क्षेत्र के जनप्रतिनिधियो के साथ प्रशासन को आगाह किया फिर भी प्रशासन इसको गंभीरता से नहीं ले रहा है।उन्होंने कहा कि जनता में भारी रोष है।समय रहते प्रशासन खाद्य सुरक्षा योजना में पुनः सर्वे करवाए अन्यथा मुझे मजबूर होकर क्षेत्र की जनता के साथ भूख हड़ताल पर बैठना पड़ेगा ।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top