केन्द्रीय विद्यालय में हुआ प्रदर्षनी का आयोजन
बाड़मेर 
केन्द्रीय विद्यालय वायु सेना उत्तरलाई में शनिवार को राश्ट्रीय विज्ञान दिवस का आयोजन किया गया जिसमेंबाल विज्ञान प्रदर्षनी भी लगाइ गई।
प्राचार्य गौरव कुमार द्विवेदी और उप प्राचार्य श्री भूप सिंह ने बाल विज्ञान प्रदर्षनी का अवलोकन किया, जिसमे ंकई प्रकार के माॅडल बनाए छात्र-छात्राओं द्वारा माॅडलों की भूरी-भूरी प्रषंसा भी की। इस अवसर पर प्राचार्य श्री द्विवेदीजी ने अपने विचारों में कहा कि बच्चों में जागरूकता पैदा होगी।
राश्ट्रीय विज्ञान दिवस के बारे में भारत में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। चाहे वो किसी भी क्षेत्र का कार्य हो। लेकिन भारत में विज्ञान के बारे में बच्चों में जागरूकता की कमी है और विज्ञान के क्षेत्र में सुविधाओं का अभाव होने के कारण बच्चे अपना नाम रोषन करने के लिए विदेषों की और भागते है क्योंकि वहां उन्हें वो सारी सुविधाए प्राप्त होती है जो उन्हें चाहिए। इसलिए वर्तमान में बच्चों को विज्ञान में कम रूची है हर व्यक्ति इंजिनियर व डाॅ0 बनना चाहता है लेकिन वैज्ञानिक नही ंक्योकि सुविधाओं का अभाव है। उन्होंने अपने षब्दों में कहां कि जैसे इंजिनीयर व डाॅक्टर बनने की होड हो रही है वैसे ही वैज्ञानिक बनने की होड हो और बच्चों को सारी सुविधाएं उपलब्ध हो जिससे वो अपना, माता पिता व देष का नाम रोषन करें। इसी कडी में उप प्राचार्य श्री भूप सिंह ने बाल विज्ञान प्रदर्षनी में बच्चों को आर्षीवचन व हमेषा मेहनतकर के प्रयत्नषील होने की बात कहीं।
कार्यक्रम मे ंविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने भी अपने विचार रखे। छात्रा उदिसा ने राश्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाने का कारण डाक्टर सी0 वी0 रमन के जीवन का परिचय दिया। वरूण ने पुरस्कार प्राप्त किये उनका वर्णन किया जैसे नोबल पुरस्कार, भारतरत्न व गोल्डमेडल आदि छात्रा प्रिया चारण ने सी0 वी0 रमन पर आधारित एक कविता प्रस्तुत की‘ हर चीज का ेसामान बना दे ... सी0 वी0 रमन विज्ञान का वरदान लिख दे ।
छात्र जिगर व रेषनिक ने विचार रखे कि यह कार्यक्रम 28 फरवरी को सभी विद्यालयों एवं संस्थाानो ंमें एक त्यौंहार के रूप मे ंमनाया जाता है ।
कार्यक्रम के अन्त में उप प्राचार्य भूप सिंह ने सभी को आर्षीवचन देकर आगे बढने की प्रेरणा का संदष दिया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top