जैसलमेर योजनाओं के त्वरित क्रियान्वन एवं प्रभावी माॅनिटरिंग करें - सांसद चौधरी 

केन्द्र सरकार द्वारा संचालित विभिन्न विकास योजनाओं की विस्तार से समीक्षा

जिला स्तरीय सतर्कता एवं निगरानी समिति की बैठक में अधिकारियों को दिए निर्देष

जैसलमेर,
 बाडमेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चैधरी ने केन्द्र सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के त्वरित क्रियान्वन एवं प्रभावी माॅनिटरिंग करने के निर्देष दिए ताकि सरकारी धन का सदुपयोग हो सकें वहीं इससे जिले का विकास भी त्वरित गति से हो। उन्होंने अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों को समन्वित रूप से प्रयास कर योजनाओं में बजट का समय पर उपयोग कराने पर विषेष जोर दिया।
सांसद कर्नल चैधरी शुक्रवार को कलेक्टेªट सभागार में आयोजित जिला स्तरीय सतर्कता एवं निगरानी समिति की बैठक में संबोधित करते हुए यह निर्देष दिए। बैठक में जिला कलक्टर एन.एल. मीना, जिला प्रमुख जैसलमेर श्रीमती अंजना मेघवाल, उपप्रमुख उम्मेदसिंह, पंचायत समिति जैसलमेर के प्रधान अमरदीन, सांकडा की प्रधान अमतुल्ला, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद जैसलमेर बलदेव सिंह उज्जवल, विकास अधिकारी जैसलमेर छोगाराम विष्नोई, सम लादूराम विष्नोई, समाजसेविका मनोरमा वैष्णव के साथ ही सदस्यगण हिम्मताराम, राहुल जैन एवं उम्मेदराम भी उपस्थित थे।
सांसद चैधरी ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा जनहित में संचालित विभिन्न योजनाओं की सार्थकता इसी बात में निहित है कि उनका वास्तविक लाभ उन व्यक्तियों तक पहुंचाया जाएं जिनके लिए वे योजनाएं संचालित की जा रहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जनहित एवं जन सुविधाओं के लिए विभिन्न योजनाओं द्वारा सरकारी वित का प्रावधान किया है ऐसे में जिले के जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी परस्पर समन्वय बनाए रखकर लोगो की अपेक्षाओं के अनुरूप बेहतर कार्य को अंजाम दें। उन्होंने नरेगा कार्य को गंभीरता से लिया, इसमें स्थायी महत्व के कार्य करवाने के निर्देष दिए। उन्होंने जिले के सभी जनप्रतिनिधियों, जिलाधिकारियों को टीम की भावना के साथ अपने-अपने क्षेत्र में गंभीरतापूर्वक बेहतर ढंग से कार्य करने की बात कहीं।
उन्होंने संबंधित अधिकारियों को कहा कि सरकार की मंषा के अनुरूप पूर्ण पारदर्षिता एवं ईमानदारी के साथ नरेगा कार्यों में बदलाव लाने की जरूरत है। उन्होंने जिले के पालीवालों के प्राचीन गांव डेढा व जाजीया में नरेगा के तहत नाडी खुदाई के बेहतर ढंग से कार्य कराएं जाने पर विषेष बल दिया। उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान के तहत विष्व विख्यात पर्यटन नगरी जैसलमेर को जिले के सभी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, आम नागरिकों से साफ-सुथरा बनाएं रखने में सभी की सहभागिता एवं सहयोग करने की अपील की।
उन्होंने अधिकारियों को विषेष रूप से जिले के पानी, बिजली, सडक, चिकित्सा, षिक्षा इत्यादि मूलभूत सुविधाओं को मुहैया कराने के लिए संवेदनषीलता के साथ कार्य करने के निर्देष दिए। उन्होंने बैठक में महानरेगा, इंदिरा आवास योजना, प्रधानमंत्री सडक योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, स्वच्छ भारत मिषन, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, समेकित वाटर शेड प्रबंधन कार्यक्रम, अनुसूचित जनजाति कार्यक्रम, पिछडा क्षेत्र अनुदान निधि सहित ग्रामीण विकास मंत्रालय की विभिन्न योजाओं के क्रियान्वन एवं प्रगति की विस्तार से अधिकारियों के साथ समीक्षा की एवं सख्त हिदायत दी कि योजनाओं में किसी भी स्तर पर अनियमितता नहीं बरती जावें एवं समय पर इसकी क्रियान्विति सुनिष्चित की जावें।
उन्होंने यह भी निर्देष दिए कि योजनाओं में किसी भी स्तर पर अनियमितता अथवा भ्रष्टाचार की षिकायत मिलने पर उसे गंभीरता से लिया जाकर सख्त कार्यवाहीं अमल में लाई जावें। उन्होंने बैठक प्रारम्भ होने से पूर्व जनप्रतिनिधियों और जिलाधिकारियों से परिचन प्राप्त किया एवं उन्हें अपने-अपने क्षेत्र में योजनाओं का प्रभावी पर्यवेक्षण रखने पर विषेष जोर दिया।
सांसद चैधरी ने बैठक में जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता ओ.पी. व्यास को जिले में पेयजल व्यवस्था के संबंध में प्राप्त हो रही षिकायतों को गंभीरता से लेते हुए कहा कि जहां-जहां पर भी जीएलआर, हैण्डपम्प एवं पाईपलाईन खराब पडी है उसे तत्काल ठीक करवाकर जलापूर्ति व्यवस्था को सुदृढ बनाया जाएं एवं जहां पर पानी की कमी है वहां पर पेयजल टैंकरो के माध्यम से जलापूर्ति व्यवस्था को बेहतर ढंग से बनाए रखने पर विषेष जोर दिया। उन्होंने पेयजल सिस्टम को कारगर ढंग से सुधारने के लिए ठोस कार्ययोजना तैयार करने के निर्देष दिए।
जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल ने बैठक में आगामी ग्रीष्म ऋतु को देखते हुए ग्रामीण अंचलों में पेयजल की समुचित व्यवस्था करने के साथ ही अधिकाधिक पषु षिविर खोलने एवं विद्युत आपूर्ति व्यवस्था को 6 घंटे से बढाकर 12 से 16 घंटे करवाने पर विषेष बल दिया ताकि गांवों में विद्युत एवं पेयजल व्यवस्था सुदृढ होने से लोगो को राहत मिल सकें। बैठक में उपप्रधान उम्मेदसिंह ने ट्रेजरी एवं पोस्ट आॅफिस से पेंषनरों के पेंषन राषि के भुगतान में हो रहे विलंब को सांसद महोदय में लाया तो उन्होंने पेंषन राषि को आॅनलाईन के माध्यम से संबंधित पेंषनर्स के खातों में शीघ्र जमा कराने के निर्देष प्रदान किए।
पंचायत समिति जैसलमेर के प्रधान अमरदीन ने आगामी ग्रीष्म ऋतु को ध्यान में रखते हुए खराब पडे ट्यूबवैलों, हैण्डपम्पों, जीएलआर को तत्काल ठीक करवाए जाने की आवष्यकता जताई। इसी प्रकार सांकडा प्रधान अमतुल्ला ने डेढाणियां विधालय में स्थित गल्र्स स्कूल में टाॅयलेटस निर्माण की स्वीकृति शीघ्र जारी करने का सकारात्मक सुझाव प्रस्तुत किया।
जिला कलक्टर एन.एल. मीना ने बैठक में केन्द्र सरकार द्वारा वित पोषित ग्रामीण विकास योजनाओं के बेहतर क्रियान्वन करने के निर्देष अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि योजनाओं में खर्च राषि का सदुपयोग होना चाहिए तथा किए गए कार्यों की उपयोगिता भी स्पष्ट दिखाई देनी चाहिए। उन्होंने विभिन्न योजनाओं की बकाया उपयोगिता एवं पूर्णता प्रमाण पत्र तत्काल भिजवाने के निर्देष दिए।
बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी बलदेव सिंह उज्जवल ने केन्द्र सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की प्रगति के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की।
बैठक में उपखण्ड अधिकारी जैसलमेर डाॅ. जी.आर. वैष्णव, उपायुक्त उपनिवेषन गजेन्द्रसिंह चारण, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.आर. नायक, अधीक्षण अभियंता विधुत विभाग जी.आर. सिरवी, जलदाय ओ.पी. व्यास, अधिषाषी अभियंता जलदाय सी.एस. कल्ला, सहायक निदेषक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग हिम्मतसिंह कविया उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top