Govt will make 186 model schools in Rajasthan, will equipped all facilitiesराज्य में बनेंगे 186 मॉडल विद्यालय, जुटाई जाएंगी निजी जैसी सुविधाएं
जयपुर। 
राज्य के सभी 186 शिक्षा ब्लॉक में एक सरकारी स्कूल मॉडल के तौर पर तैयार होगा। इसमें निजी स्कूल सरीखी सभी सुविधाएं उपलब्ध होंगी। यह विद्यालय संबंधित क्षेत्रीय विधायक को गोद दिया जाएगा। विधायक कोष्ा की मदद से ही इसमें ढांचागत एवं अन्य सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। शिक्षा के स्तर और गुणवत्ता में सुधार के मकसद से यह कार्ययोजना बनाई गई है। शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी के गृह जिले से इसकी शुरूआत होगी। 
राज्य के सभी ब्लॉकों में मॉडल स्कूल शुरू होने के बाद अन्य सरकारी स्कूलों में भी उन्हीं की तर्ज पर सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। राज्य में कुल दो सौ विधानसभा क्षेत्र हैं, लेकिन शिक्षा ब्लॉक 186 हैं। कुछ जगह एक ही शिक्षा ब्लॉक में दो या इससे अधिक विधानसभा क्षेत्र हैं। ऎसे स्थानों पर दो या इससे अधिक विधायक अपने कोष्ा की मदद से मॉडल स्कूल तैयार करेंगे। अत: इस योजना में हर विधायक की सीधी भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी। मॉडल स्कूल के चयन में संबंधित विधायक की अनुशंसा को प्राथमिकता दी जाएगी। 

मिलेगा पूरा स्टाफ 
मॉडल स्कूल में शिक्षा विभाग पूरा स्टाफ उपलब्ध कराएगा। क्षेत्र की मांग के आधार पर स्कूल में नए संकाय शुरू करने एवं उनके शिक्षक भी नियुक्त किए जाएंगे। शिक्षा विभाग स्कूल के श्ौक्षणिक एवं सह श्ौक्षणिक स्तर की निरंतर निगरानी करेगा। 

सहयोग के प्रयास
मुख्यमंत्री से अनुमति मिलने के साथ ही काम शुरू हो जाएगा। शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए सभी विधायकों के परस्पर सहयोग की सहमति बनाने का प्रयत्न करूंगा। 
- वासुदेव देवनानी, शिक्षा राज्यमंत्री

विधायक कोष्ा लेना टेढ़ी खीर
विधायक कोष्ा से मॉडल स्कूल बनाने के लिए सभी विधायकों की सहमति लेना टेढ़ी खीर नजर आता है। दरअसल, विधायक अपने विवेक पर कोष्ा बांटने का काम करते हैं। हालांकि शिक्षा विभाग का मानना है कि क्षेत्र में शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए सभी विधायकों की सहमति मिल जाएगी। अत: विभाग ने विधायक के चुने स्कूल को मॉडल के रूप में विकसित करने का निर्णय किया है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top