मीना ने पिथला में आयोजित भामाशाह शिविर का किया आकस्मिक निरीक्षण 


नामांकन फार्मो का किया अवलोकन , गलत प्रविष्टि पाए जाने पर पटवारी व ग्राम सेवक को लगाई फटकार

जैसलमेर, 6 नवम्बर/ जिला कलक्टर एन. एल. मीना ने गुरूवार को ग्राम पंचायत पिथला में राजीव गांधी सेवा केन्द्र में आयोजित भामाशाह नामांकन शिविर का आकस्मिक निरीक्षण किया एवं वहां नामांकन शिविर के लिए की गई सम्पूर्ण व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

जिला कलक्टर मीना ने हेल्पडेस्क पर कार्यरत् कार्मिको द्वारा भरे जा रहे भामाशाह नामांकन फार्मों को बारीकी से देखा एवं उनको निर्देश दिये की सही रूप से फार्म भरें। उन्होने प्रथम सत्यापनकर्ता को निर्देश दिये कि वे प्रारम्भ में भरी गई सभी एन्ट्रीयों को बारीकी से देखने के बाद सत्यापन करें। उन्होने कडे निर्देष दिए कि जो भी आवेदन पत्र भरे जाए उसमें प्रार्थी का नाम , पिता का नाम , पति का नाम , आय , भूमि का विवरण इत्यादि सभी प्रविष्टि का सही अंकन करायें एवं साथ ही सत्यापनकर्ता को निर्देष दिए कि वे षिविर समापन से पूर्व कंप्यूटर में दर्ज सभी फार्मो की जांच कर सही करवाके ही अपलोड करवायें।

जिला कलक्टर मीना ने भामाषाह पंजीयन कार्ड के लिए भरे हुए कुछ फाॅर्मो को बारीकी से देखा एवं उसमें आवेदन कर्ता एवं उनके परिवार के सदस्यों के नाम से की गई संपूर्ण प्रविष्टि की जांच भी की। पिथला षिविर में किए गए आवेदन पत्रों की जांच के दौरान प्रविष्टियां सहीं नहीं पाए जाने पर षिविर प्रभारी एवं तहसीलदार को निर्देष दिए कि वे पटवारी व ग्रामसेवक को इसके लिए पाबंद करें। उन्होंने पटवारी , आरआई एवं ग्रामसेवक को बुलाकर सही प्रविष्टि नहीं करने पर फटकार लगाई एवं निर्देष दिए कि उन्हें गलती करने पर निलंबित भी किया जा सकता है। उन्होंने गुणवता जांचकर्ता को भी निर्देष दिए कि वे भरे गए आवेदन पत्र में दर्ज की गई प्रविष्टियों की सही जांच करें ताकि किसी भी व्यक्ति का गलत भामाषाह एवं आधार कार्ड नहीं बनें। उन्होंने इस षिविर में कर्मचारियों द्धारा बरती गई लापरवाहीं के प्रति कडी नाराजगी जताई एवं सख्त हिदायत दी कि वे रिकाॅर्ड देखकर सहीं आवेदन पत्र भरवाने की कार्यवाहीं करेंगे।

उन्होने आधार कार्ड काउन्टर पर जाकर वहां लोगों द्वारा बनाये जा रहे आधार कार्ड एवं कम्प्यूटर आॅपरेटर द्वारा दर्ज की जा रही प्रविष्ठी को भी देखा। उन्होने भामाशाह नामांकन पंजीयन के लिए भरवाये जा रहे आवेदन प्रक्रिया की भी विस्तार से जानकारी ली एवं प्रत्येक कम्प्यूटर पर जाकर भामाशाह नामांकन के लिये फीड किये जा रहे नामांकन फार्म एवं फोटो भी देखा। उन्होनंे आॅपरेटरों को निर्देश दिये की वे कम से कम समय में फोटो फीड करने की कार्यवाही करें ताकि अधिक से अधिक नामांकन फार्म भरे जा सके। उन्होने सत्यापनकर्ता को निर्देष दिए कि वे पूरे दिन में अपलोड किए गए फार्मो को षिविर समाप्ति के पष्चात जांच करके सही पाये जाने पर ही उसे नेट पर भिजवाएं।

जिला कलक्टर मीना ने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्धारा विषेष योग्यजन के लिए भरवाये जा रहे आवेदन पत्रो , रसद विभाग द्धारा त्रुटि पूर्ण राषनकार्डो में शुद्धि के लिए भरवाये जा रहे आवेदन पत्रो के बारे में भी विस्तार से जानकारी ली। उन्होन बैंक कार्मिक द्धारा भरे जा रहे बैंक खातो के आवेदन पत्रो को भी देखा। जिला कलक्टर ने लोगो से कहा की वे अपने पूरे परिवार का आधार कार्ड बनाकर भामाशाह कार्ड का पंजीकरण करावें।

निरीक्षण के दौरान जिला भामाषाह अधिकारी डाॅ बी.एल. मीना , तहसीलदार पीतांबर राठी ,एसीपी हरिषंकर अग्रवाल , सहायक अभियंता जयमल इंदलिया भी उपस्थित थे।

षिविर में महिलाओं में काफी उत्साह देखा गया एवं वें अपना आधार कार्ड एवं भामाषाह कार्ड बनाने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहीं थी। वे अपने नन्हें मुन्हें लाडलों को भी साथ में लाई।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT © 2013-14. All Rights Reserved.
Top