21 दिन बाद जेल से निकलीं जयललिता

बेंगलुरु
आय से अधिक संपत्ति मामले में चार साल की सजा काट रहीं एआईएडीएमके प्रमुख जे. जयललिता शनिवार को 21 दिन बाद बेंगलुरु सेंट्र्ल जेल से रिहा हो गईं। सुप्रीम कोर्ट ने जयललिता को शुक्रवार को सशर्त जमानत दे दी थी। जयललिता को लेने के लिए तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पन्नीरसेलवम बेंगलुरु सेंट्रल जेल पहुंचे। 
अपने नेता की रिहाई से उत्साहित जयललिता के समर्थक जश्न मना रहे हैं। जयललिता की करीबी रहीं शशिकला, उनके संबंधी सुधाकरन और इलावरासी भी जमानत पर बाहर आ गए।
दो करोड़ रुपये की जमानत और परिसंपत्ति बतौर मुचलका प्रस्तुत किए जाने के बाद स्पेशल जज जॉन माइकल डी कुन्हा ने जयललिता को रिहा करने का आदेश दिया। जयललिता के वकीलों ने विशेष अदालत में सुप्रीम कोर्ट के आदेश की प्रति भी पेश की।
66.65 करोड़ रुपये की आय के ज्ञात स्रोतों से ज्यादा संपत्ति अर्जित करने के मामले में 18 साल चले मुकदमें में विशेष अदालत ने इन लोगों को 27 सितंबर को चार साल कैद और 100 करोड़ रुपये बतौर जुर्माने की सजा सुनाई थी। इस फैसले से जयललिता की मुख्यमंत्री की कुर्सी छिन गई थी। उनकी जगह उनके करीबी पन्नीरसेलवम को तमिलनाडु का सीएम बनाया गया था।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT © 2013-14. All Rights Reserved.
Top