युनूस खान ने किया 33 केवी जीएसएस का उद्घाटन
डीडवाना (नागौर), 
राज्य के माननीय सानिवि मंत्री युनूस खान ने बुधवार दोपहर 1ः30 बजे डीडवाना के रहमान गेट स्थित नवनिर्मित 33/11 किलोवाट के ग्रिड सब स्टेषन का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के एमडी श्री बी. राणावत तथा नागौर के अधीक्षण अभियंता जस्साराम छाबा भी उपस्थित थे। उद्घाटन के पष्चात माननीय मंत्री खान ने कहा कि राजस्थान नवम्बर तक पूरी तरह 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने वाला प्रदेष बन जाएगा। साथ ही पडौसी राज्यों को भी बड़ी मात्रा में बिजली दी जाने लगेगी। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में आधारभूत संरचना के दो प्रमुख घटकों बिजली की उपलब्धता तथा सड़कों का विकास होगा। उन्होंने सड़कों के मामले में शीघ्र ही राज्य को अन्य राज्यों से बेहतर सड़कों वाला ’रोल माॅडल स्टेट’ बनाने की बात कही। सौर ऊर्जा के क्षेत्र में किए जा रहे प्रयासों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि विष्व का सबसे बड़ा सौर ऊर्जा पार्क भी राजस्थान में होगा।
उद्घाटन समारोह के दौरान एवीवीएनएल के एमडी बी. राणावत ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री की मंषा है कि हर घर में 24 घंटे बिजली की उपलब्धता के लिए राज्य के बिजली तंत्र को और अधिक सुदृढ़ किया जाए। श्री राणावत ने कहा कि इस क्रम में सरकार की मंषा के अनुरूप नवम्बर तक विद्युत वितरण के ढांचे में आमूलचूल परिवर्तन कर लिए जाएंगे और राजस्थान बिजली की उपलब्धता के क्षेत्र में एक नए स्वरूप में सामने आएगा।
जननी सुरक्षा वार्ड का किया लोकार्पणः-
 माननीय सार्वजनिक निर्माण मंत्री युनूस खान ने बुधवार को डीडवाना के राजकीय बांगड़ अस्पताल में ’जननी सुरक्षा योजना’ के 50 बिस्तर वाले वार्ड का लोकार्पण किया। राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिषन के अंतर्गत बने इस वार्ड के लोकार्पण समारोह की अध्यक्षता नागौर के माननीय सांसद सी.आर. चैधरी ने की। लोकार्पण के बाद अपने उद्बोधन में माननीय सानिवि मंत्री खान ने कहा कि व्यक्ति के जीवन में चिकित्सा एक महत्वपूर्ण सेवा है। इसलिए सभी चिकित्सकों को पूरी कर्तव्यनिष्ठा के साथ सरकारी सुविधाओं सहित यह सेवा मरीजों को देनी है। खान ने कहा कि जो डाॅक्टर निजी प्रैक्टिस के लिए अपने कर्तव्य के साथ किसी प्रकार का समझौता करेंगे उन्हें किसी भी स्तर पर बख्शा नहीं जाएगा। माननीय मंत्री ने अस्पताल में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त रखने के निर्देष दिए तथा यह भी कहा कि अस्पताल में आने वाली दवाईयां हर हाल में जरूरतमंद मरीजों तक पहंुचनी चाहिए।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top