प्रतिदिन देनी होगी महात्मा गांधी नरेगा कार्याें की सूचना
महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत प्रतिदिन की गई कार्यवाही से मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक को मोबाइल पर संदेश के जरिए अवगत कराने को कहा है। निर्देशांे की पालना नहीं करने पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।
बाड़मेर, 22 मई। 
महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत स्वीकृत व्यक्तिगत शौचालयांे के मस्टररोल जारी कर कार्य प्रारंभ करने, नियोजित श्रमिकांे की संख्या मंे वृद्वि करने तथा व्यय राशि का 90 फीसदी समायोजन करने के लिए जिला कार्यक्रम समन्वयक एवं जिला कलक्टर भानु प्रकाष एटूरू ने समस्त कार्यक्रम अधिकारियांे को निर्देश जारी किए है। उनको प्रतिदिन की गई कार्यवाही से मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक को मोबाइल पर संदेश के जरिए अवगत कराने को कहा है। 
अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच ने बताया कि व्यक्तिगत शौचालय निर्माण एवं नियोजित श्रमिकांे की संख्या मंे वृद्वि एवं समायोजन को लेकर राज्य सरकार द्वारा गंभीर रवैया अपनाया जा रहा है। कार्यक्रम अधिकारियांे को समस्त कार्याें मंे व्यक्तिगत रूचि लेकर प्रगति अर्जित करने के निर्देश जिला कार्यक्रम समन्वयक ने दिए है। उनको निर्देशित किया गया है कि वे प्रतिदिन की गई कार्यवाही से मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजेन्द्र मिश्रा को उनके मोबाइल 9414414821 एवं अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक,ईजीएस सुरेश दाधीच को मोबाइल 9829010297 पर संदेश के जरिए अवगत कराना सुनिश्चित करवाएं। समय पर शत-प्रतिशत उपलब्धि नहीं करने पर कार्यक्रम अधिकारियांे के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रारंभ की जाएगी।

कार्याें की प्रस्ताव भिजवाने के निर्देशः महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत जिन ग्राम पंचायतांे मंे प्रगतिरत कार्याें की तादाद 20 से कम है, ऐसी ग्राम पंचायतांे मंे कार्याें की स्वीकृति के लिए प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए गए है।

अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच ने बताया कि योजना के प्रावधानांे के अनुरूप प्रत्येक ग्राम पंचायत मंे श्रमिकांे की मांग अनुरूप पर्याप्त कार्य स्वीकृत होना आवश्यक है। ताकि श्रमिकांे द्वारा मांग किए जाने पर रोजगार उपलब्ध कराया जा सके। उन्हांेने बताया कि 20 से कम कार्याें वाली पंचायतांे मंे श्रमिकांे को रोजगार उपलब्ध करवाने की दृष्टि से प्राथमिकता से कार्याें के प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए गए है। पर्याप्त कार्याें के अभाव मंे श्रमिकांे को रोजगार नहीं मिलने से उत्पन्न होने वाली किसी भी स्थिति के लिए संबंधित कार्यक्रम अधिकारी जिम्मेदार होंगे। दाधीच ने बताया कि ऐसी ग्राम पंचायतें जिसमंे प्रगतिरत कार्याें की संख्या 50 से अधिक है, वहां प्राथमिकता से प्रगतिरत कार्याें को पूर्ण करवाने के बाद ही नए कार्याें के प्रस्ताव स्वीकृति से भिजवाने के निर्देश दिए गए है। नए कार्याें के प्रस्ताव पंचायत समिति स्तर पर पूर्व परीक्षण पश्चात ही भिजवाने के निर्देश दिए गए हैं।

नरेगा कार्याें का समय अब 7 से 2 बजे होगा

-महात्मा गांधी नरेगा कार्यों का समय गर्मी के मौसम के मददेनजर बदला गया है।

बाड़मेर, 22 मई। महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत गर्मी के मौसम एवं स्थानीय परिस्थितियांे को देखते हुए कार्याें का समय अब सुबह 7 से दोपहर 2 बजे कर दिया गया है।

अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच ने बताया कि परियोजना निदेशक ने गर्मी के मौसम के मददेनजर विश्रामकाल का प्रावधान नहीं रखने की स्थिति मंे 7 घंटे की कार्यावधि निर्धारित करने के निर्देश दिए है। ऐसे मंे जिला कार्यक्रम समन्वयक एवं जिला कलक्टर भानु प्रकाष एटूरू ने आदेश जारी कर महात्मा गांधी नरेगा कार्याें का समय सुबह 7 से दोपहर 2 बजे बिना विश्राम काल निर्धारित किया है। समस्त कार्यकारी एजेंसियांे को निर्धारित समयावधि मंे नरेगा कार्य संचालित करने के निर्देश दिए गए है।

श्रमिकांे का नियोजन शून्य होने पर हटेंगे ग्राम रोजगार सहायक

बाड़मेर, 22 मई। महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत जिन ग्राम पंचायतांे मंे नियोजित श्रमिकांे की संख्या शून्य होगी, उनको तुरंत प्रभाव से हटाने की कार्यवाही की जाएगी। ऐसी ग्राम पंचायतांे मंे श्रमिकांे को नियोजन तुरंत प्रभाव से करने के निर्देश दिए गए है।

अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच ने बताया कि मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजेन्द्र मिश्रा ने समस्त कार्यक्रम अधिकारियांे को शून्य श्रमिक नियोजन वाली ग्राम पंचायतांे मंे अधिकाधिक श्रमिकांे का नियोजन करने के निर्देश दिए है। इस संबंध मंे कार्यक्रम अधिकारी स्तर पर की गई कार्यवाही एवं पालना रिपोर्ट से तीन दिन मंे अवगत कराने के निर्देश दिए है। शून्य नियोजन वाले ग्राम पंचायतांे के ग्राम रोजगार सहायकांे को हटाने के निर्देश दिए गए है। निर्देशांे की पालना नहीं करने वाले कार्यक्रम अधिकारियांें के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रारंभ की जाएगी।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top