- बच्चों ने बनाये चित्र , भविष्य की चिंता आई नजर 
बाड़मेर 
राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल जागरूकता सप्ताह के तहत जिले भर में बच्चे आने वाले कल में होने वाले जल संकट को विभिन्न आधारो के जरिये खुल कर सामने रख रहे है। ‘जल बचाओ, जीवन बचाओ विषय पर चित्रकला और भाषण प्रतियोगिता का आयोजन जिले में अब तक चालीस विधालयो में किया गया। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता व्रत बाड़मेर ओ पी व्यास ने बताया कि जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के प्रमुख शासन सचिव के आदेशो का अनुशरण करते हुए जिले की सभी ग्राम पंचायतो में भषण और चित्रकला प्रतियोगिता और भाषण प्रतियोगिता के आयोजन किये जा रहे है। जिसमे चित्रकला प्रतियोगिता में बच्चे सबसे ज्यादा उत्साह से भाग ले रहे है। जिले के चालीस विधालयो में अब तक आयोजित प्रतियोगिता में बच्चों ने चित्रकला में विभिन्न चित्रों से अपनी कला को बिखेरा। इन आयोजनो में बच्चों को बताया जा रहा है कि आज के जीवन में पानी की क्या उपयोगिता है, आने वाले समय में पानी की उपलब्धता पर संकट गहराता जा रहा है। आज हम पानी को कैसे बचा सकते है, इसके तरीके भी बताए जा रहे है। सीसीडीयू के आईईसी कंसल्टेंट अशोक सिंह ने बताया कि जिला मुख्यालय और ग्राम पंचायत मुख्याल स्थित विधालयो में निबंध प्रतियोगिता और चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल जागरूकता सप्ताह के तहत किया जा रहा है साथ ही इन प्रतियोगिताओ में जिले भर में पहले स्थान पर आने वाले प्रतिभागियों को पुरुस्कारों से नवाजा जायेगा साथ ही चयनित प्रथम स्थान वाले बच्चो कि प्रविस्तियो को राज्य स्थरीय पुरुस्कारों के लिए जयपुर भेजा जायेगा। इन आयोजनो में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग और सीसीडीयू राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल जागरूकता सप्ताह में जिला शिक्षा अधिकारी , महिला एवं बाल विकास अधिकारी , मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ,मुख्य करकरी अधिाकरी , जिला परिषद् एवं अधिशाषी अभियंता और जल संसाधन विभाग सहयोगी विभाग के तोर पर काम कर रहे है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top