प्रतिष्ठा की पत्रिका का मुहूर्त हुआ, विधायक ने की शिरकत
बाड़मेर। 
थार नगरी बाड़मेर के कल्याणपुरा स्थित महावीर चैक के प्राचीन चिंतामणि जिनालय का जीर्णोद्धार कृत अंजनशलाका प्रतिष्ठा पूज्य उपाध्याय प्रवर मणिप्रभसागरजी म.सा. की पावन निश्रा में आगामी 5 मार्च को होगी।
प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के संयोजक मांगीलाल वडेरा ने बताया कि पूज्य उपाध्याय प्रवर श्री मणिप्रभसागरजी म.सा. आदि ठाणा एवं विचक्षण मणि गुरूवर्या श्री सुरंजनाश्रीजी म.सा. आदि ठाणा एवं बहिन म.सा. डाॅ. विद्युत्प्रभाश्रीजी आदि साध्वी मण्डल का आज प्रातः 9 बजे शुभ मुहूर्त में नगर प्रवेश सम्पन्न हुआ। स्थानीय रैन बसेरा चैहटन फाटक पर गुरूदेव एवं गुरूवर्या श्री आदि का सामैया कर स्वागत किया गया।
कल्याणपुरा पाश्र्वनाथ जिनालय ट्रस्ट के अध्यक्ष बाबुलाल सेठिया ने बताया कि पूज्य उपाध्याय प्रवर एवं साध्वी मण्डल के प्रवेश की शोभायात्रा रैन बसेरा चैहटन फाटक से सामैया द्वारा स्वागत कर आरम्भ हुई जो चैहटन फाटक से महाबार रोड़, करमूजी की गली, प्रतापजी की प्रोल, जवाहर चैक, सब्जी मण्डी, गांधी चैक, जैन भोजनशाला, वैद्यजी की गली, अग्रवालों का मौहल्ला पहुंची। जहां पर प्रतिष्ठा की पत्रिका जय जिनेन्द्र के लाभार्थी बाबुलाल भगवानदास सेठिया परिवार के निवास पर उपाध्याय प्रवर द्वारा मंगलाचरण के बाद लाभार्थी परिवार द्वारा पत्रिका सिर पर धारण कर शोभायात्रा में शरीक हुए। यहां से शोभायात्रा महावीर चैक स्थित पाश्र्वनाथ जिनालय के दर्शन वंदन के पश्चात् वहां धर्मसभा में परिवर्तित हुई जहां पूज्य श्री का मांगलिक प्रवचन हुआ।
प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के सह संयोजक सज्जनराज मेहता ने बताया कि उपाध्याय श्री के मंगलाचरण से कार्यक्रम का आगाज हुआ। कार्यक्रम की शुरूआत पाश्र्वनाथ भगवान की तस्वीर के आगे दीप प्रज्जवलित कर की गई। दीप प्रज्जवलन मेवाराम बोहरा, संयोजक मांगीलाल वडेरा, अध्यक्ष बाबुलाल सेठिया, सह संयोजक सज्जनराज मेहता, महामंत्री सम्पतराज वडेरा व उपाध्यक्ष रतनलाल वडेरा ने किया।
तत्पश्चात् विचक्षण बालिका मण्डल, सम्बोधि बालिका मण्डल, आदिनाथ महिला मण्डल, शशि गोलेच्छा आदि ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया।
ट्रस्ट के उपाध्यक्ष रतनलाल वडेरा ने बताया कि प्रवेश की शोभायात्रा में बैण्ड, ढोल-नगाड़े, बालक-बालिका मण्डल एवं मंगल कलश धारण किए हुए महिलाएं सम्मिलित थे। शोभायात्रा का जगह-जगह तोरण द्वारों, अक्षत की गहुलियों एवं रंगोली से स्वागत किया गया।
प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के महामंत्री जेठमल जैन ने बताया कि प्रतिष्ठा की पत्रिका जय जिनेन्द्र के लाभार्थी परिवार द्वारा उपाध्याय प्रवर से पत्रिका के विमोचन एवं लेखन मुहूर्त प्रदान करने का निवेदन किया गया। इसके बाद कुमकुम व केसर के साथ स्वर्ण की कलम से लेखन मुहूर्त सम्पन्न हुआ।
ट्रस्ट के महामंत्री सम्पतराज बोथरा ने बताया कि प्रतिष्ठा के अवसर पर घर-घर तोरण द्वारों का लाभ मेवाराम चिंतामणदास जैन परिवार ने लिया। इसके बाद उपाध्याय प्रवर से स्थानीय विधायक मेवाराम जैन ने आशीर्वाद लिया।
धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए उपाध्याय प्रवर ने कहा कि यह जिनालय अति प्राचीन है। इसकी प्रतिमा चमत्कारिक है, यही प्रतिमा आगामी 5 मार्च को पुनः प्रतिष्ठित की जाएगी।
इस अवसर पर साध्वीवर्या डाॅ. विद्युत्प्रभाश्री एवं साध्वी सिद्धांजनाश्री आदि ठाणा सहित सैकड़ों की संख्या में जैन श्रद्धालु उपस्थित थे। मंच संचालन सह संयोजक सज्जनराज मेहता एवं सोहन संखलेचा ने किया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top