भारत को पहला झटका, अफ्रीका की पारी 500 के स्कोर पर सिमट गई
डरबन। 
भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच किंग्समीड मैदान पर खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन दक्षिण अफ्रीका की पारी 500 के स्कोर पर सिमट गई। इस आधार पर दक्षिण अफ्रीकी टीम को पहली पारी में 166 रन को बढ़त हासिल हो गई है।
पहली पारी में पिछड़ने के बाद दूसरी पारी में भारत की शुरूआत खराब रही है और मुरली विजय (6) के रूप में भारत को पहला झटका लगा है।
पहली पारी में 166 रन से पिछड़ने के बाद भारतीय टीम ने खबर लिखे जाने तक एक विकेट के नुकसान पर 9 रन बना लिए हैं। क्रीज पर चेतेश्वर पुजारा (1) और शिखर धवन (2) मौजूद हैं।
इससे पहले दक्षिण अफ्रीकी टीम ने अपने तीसरे दिन के स्कोर पांच विकेट पर 299 रन से आगे खेलते हुए 500 के स्कोर पर ऑल आउट हो गई। टेस्ट करियर का आखिरी मैच खेल रहे जैक कैलिस ने शानदार 115 रनों की पारी खेली।
चौथे दिन दक्षिण अफ्रीका को पहला झटका रविंद्र जडेजा ने 384 के कुल स्कोर पर जैक कैलिस (115) रूप में और जहीर खान ने डेल स्टेन (44) को आउट कर भारत को सातवीं सफलता दिलाई।

रॉबिन पीटरसन (61) के रूप में जहीर खान ने भारत को आठवीं सफलता दिलाई। रॉबिन के आउट होते ही बारिश ने खेल को रोक दिया।

बारिश रूकने के बाद एक बार फिर खेल शुरू हुआ और भारत को नौवीं सफलता फाफ डू प्लेसिस के रूप में मिली। प्लेसिल 43 रन बनाकर रन आउट हो गए। अंत में रविंद्र जडेजा ने मोर्ने मोर्कल को शून्य पर आउट कर दक्षिण अफ्रीकी पारी को समाप्त कर दिया।

रविंद्र जडेजा ने शानदार गेंदबाजी की और छह बल्लेबाजों को पवेलियन पहुंचाया। इसके अलावा जहीर खान को दो और मोहम्मद शमी को एक विकेट मिला।

तीसरे दिन कैलिस की शानदार पारी
तीसरे दिन दक्षिण अफ्रीका की ओर से शानदार बल्लेबाजी करते हुए जैक कैलिस ने अपनी टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दी।

दक्षिण अफ्रीकी टीम ने दूसरे दिन के स्कोर 82 रन से आगे खेलते हुए पांच विकेट के नुकसान पर 299 रन बनाए। तीसरे दिन को खेल खत्म होन पर जैक्स कैलिस 78 रन और डेल स्टेन बिना खाता खोल लौटे थे।

दूसरे दिन दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाजों ने अपनी टीम को शानदार शुरूआत दी लेकिन तीसरे दिन भारतीय गेंदबाजों ने शानदार वापसी करते हुए 113 के स्कोर पर दक्षिण अफ्रीका के तीन बल्लेबाजों आउट कर दिया।

खेल शुरू होने पर रविंद्र जडेजा ने दक्षिण अफ्रीकी टीम को पहला झटका देते हुए ग्रीम स्मिथ को 47 के स्कोर पर पवेलियन का रास्ता दिखाया। स्मिथ के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए हाशिम अमला सिर्फ 3 रन बनाकर मोहम्मद शमी के गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए।

उसके बाद रविंद्र जडेजा ने दक्षिण अफ्रीका को एक और झटका देते हुए अल्विरो पीटरसन (62) को आउट कर भारत को तीसरी सफलता दिलाई।

तीन विकेट गिरने के बाद एबी डीविलियर्स और जैक्स कैलिस ने चौथे विकेट के लिए 127 रन बनाकर अपनी टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दी। एबी डीविलियर्स 74 रन बनाकर रविंद्र जडेजा की गेंद पर आउट हुए।

एबी डीविलियर्स (74) का विकेट 240 के कुल स्कोर पर रविंद्र जडेजा ने लिया। डीविलियर्स के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए जेपी डुमिनी (28) को रविंद्र जडेजा ने पगबाधा आउट कर भारत को पांचवी सफलता दिलाई।

दूसरा दिन रहा दक्षिण अफ्रीका के नाम
दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाजों अपनी टीम को सधी शुरूआत देते हुए पहले दिन बिना किसी नुकसान के 82 रन बनाए थे। पहले दिन को खेल खत्म होने पर कप्तान ग्रीम स्मिथ 35 और अल्विरो पीटरसन 46 रन बनाकर लौटे थे।

इससे पहले भारतीय टीम ने पहले दिन के 181 रन से आगे खेलते हुए 334 रन पर सिमट गई। दूसरे दिन को खेल शुरू होने के साथ ही एक के बाद एक विकेट गिरते चले गए।

तेज बारिश के कारण दूसरे दिन का खेल लगभग दो घंटे की देरी से शुरू हुआ और खेल शुरू होते ही भारतीय बल्लेबाजों के आउट होने का सिलसिला भी शुरू हो गया।

दूसरे दिन भारतीय टीम को पहला झटका चेतेश्वर पुजारा के रूप में लगा। चेतेश्वर पुजारा में अपने पहले दिन के स्कोर में सिर्फ 12 रन जोड़ पाए और 70 के स्कोर पर डेल स्टेन की गेंद पर आउट हो गए।

उसके बाद स्टेन ने मुरली विजय को शतक बनाने से रोकते हुए 97 के निजी स्कोर पर आउट किया था। स्टेन ने अगली ही गेंद पर रोहित शर्मा को शून्य पर आउट भारत को चौथा झटका दिया।

उसके बाद भारत को विराट कोहली के रूप में पांचवां झटका लगा। कोहली 46 रन बनाकर मोर्कल की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए। कोहली अपना अर्धशतक पूरा करने से भी चूक गए। कोहली ने पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में शानदार शतक बनाया था जबकि दूसरी पारी में शतक बनाकर रिकॉर्ड बनाने से चूक गए थे।

कोहली के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए आजिंक्य रहाणे (नाबाद 51) और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (24) ने छठे विकेट के लिए 55 रनों की साझेदारी की। धोनी का विकेट 320 के कुल योग पर गिरा।

धोनी के आउट होने के बाद कोई भी बल्लेबाजी क्रीज पर टिक नहीं पाया। उसके बाद रविंद्र जडेजा और जहीर खान शून्य, इशांत शर्मा चार और मोहम्मद शमी सिर्फ एक रन बनाकर आउट हो गए।

दक्षिण अफ्रीका की ओर से सबसे ज्यादा डेल स्टेन ने सबसे ज्यादा विकेट लिया। स्टेन ने 30 ओवर में 100 रन देकर छह विकट लिए। स्टेन के अलावा मोर्ने मोर्कल ने तीन और जेपी डुमिनी ने एक विकेट लिया।

पहले दिन रोशनी ने खेल को रोका
पहले दिन खराब रोशनी के कारण सिर्फ 61 ओवर का ही खेल हो पाया था। पहले दिन मैच रोके जाने तक भारतीय टीम ने एक विकेट के नुकसान पर 181 रन बनाए थे।

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। भारत की ओर से पहले बल्लेबाजी करने उतरे शिखर धवन और मुरली विजय जबरदस्त शुरूआत दी। लेकिन 41 के कुल स्कोर पर मोर्ने मोर्कल ने शिखर धवन (29) को आउट कर भारत को पहला झटका दिया।

मैच रोके जाने तक भारत की ओर से सलामी बल्लेबाजी मुरली विजय 91 रन और टीम इंडिया की नई दिवार चेतेश्वर पुजार 58 रन बनाकर क्रीज पर बने हुए थे।

शिखर धवन लगातार चौथी बार नाकाम रहे हैं। इस साल मार्च में मोहाली में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 187 रनों की धमाकेदार पारी के साथ करियर का आगाज करने वाले धवन 6 नवंबर को कोलकाता में टेस्ट टीम में वापसी के बाद से एक भी अर्धशतक नहीं लगा सके हैं।

धवन चार पारियों में नाकाम रहे हैं। जोहानसबर्ग में खेले गए पहले टेस्ट मैच में वह 13 और दूसरी पारी में 15 बना सके थे जबकि कोलकाता टेस्ट में वेस्टइंडीज के खिलाफ 23 और फिर मुंबई टेस्ट में सिर्फ 33 रन बना सके थे।

दो मैचों की मौजूदा सीरीज का पहला टेस्ट मैच बेनतीजा समाप्त हुआ था। उस मैच में मेजबान टीम जीत से मात्र आठ रन दूर रह गई थी।

टीमें :
भारत : मुरली विजय, शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), रविंद्र जडेजा, इशांत शर्मा, जहीर खान और मोहम्मद शमी।

दक्षिण अफ्रीका : ग्रीम स्मिथ (कप्तान), अल्वीरो पीटरसन, हाशिम अमला, जैक्स कैलिस, अब्राहम डीविलियर्स, फाफ डू प्लेसिस, ज्यां पॉल डुमिनी, रॉबिन पीटरसन, वेरनॉन फिलेंडर, डेल स्टेन और मोर्ने मोर्कल।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top