इशारों ही इशारों में पीएम ने मोदी पर निशाना साधा

इशारों ही इशारों में पीएम ने मोदी पर निशाना साधा
अहमदाबाद।
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मंगलवार को इशारों ही इशारों में नरेन्द्र मोदी पर हमला बोला। पीएम ने लौह पुरूष के नाम से मशहूर सरदार पटेल को धर्मनिरपेक्ष शख्स बताते हुए कहा कि मुझे इस बात का गर्व है कि मैं उस राजनीतिक दल से हूं जिससे पटेल थे। 
हम सभी का कर्तव्य है कि देश की जनता खासतौर पर युवाओं को इस संबंध में अच्छे तरीके से वाकिफ कराए जाए। पटेल का भारत की अखंडता में गहरा यकीन था। पूरा भारत उनका गांव है और सभी संप्रदायों के लोग उनके दोस्त और रिश्तेदार हैं। मैं नेहरू और पटेल के संबंधों का जिक्र करना चाहता हूं। पटेल का मानना था कि गांधी उन्हें पिता जैसा प्यार देते थे। 
गांधी जी पटेल को बेटे की तरह मानते थे। नेहरू और पटेल के बीच मतभेदों का जिक्र कई बार आता है लेकिन यह याद रखना जरूरी है कि दनों के बीच सहमति के विषय कहीं ज्यादा थे। पटेल ने कहा था कि शासन और संगठन के क्षेत्र में नेहरू को सलाह देना मेरा सौभाग्य रहा है। दोनों ने हमेशा एक दूसरे की सलाह का सम्मान किया। पटेल देश के बड़े नेताओं में से एक थे। वह जमीन से जुड़े हुए नेता थे। 
इससे पहले गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि अगर पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो देश की तस्वीर और तकदीर कुछ और होती। बकौल मोदी देश को हमेशा एक बात की शिकायत रहेगी। हर हिंदुस्तानी के दिल में यह दर्द रहेगा कि काश सरदार साहब हमारे पहले प्रधानमंत्री होते तो देश की तस्वीर और तकदीर अलग होती। सरदार साहब की कमी यह देश हमेशा महसूस करेगा। 

मोदी ने प्रधानमंत्री को धन्यवाद देकर कहा कि उनके कार्यकाल में गुड गर्वनेंस के लिए केन्द्र सरकार से गुजरात ने कई सम्मान प्राप्त किए। मोदी ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री दिनशा पटेल की सराहना भी की। मोदी ने कहा कि गुजरात के विकास के लिए पटेल ने अच्छा काम किया और इसके लिए मैं उन्हें बधाई देता हूं।

सरदार वल्लभ भाई पटेल संग्रहालय के उद्घाटन समारोह में शिरकत के लिए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह मंगलवार शाम अहमदाबाद पहुंचे। मोदी और राज्यपाल कमला बेनीवाल ने हवाई अड्डे पर पीएम का स्वागत किया। इसके बाद सभी सरदार वल्लभ भाई पटेल को समर्पित संग्रहालय के उद्घाटन समारोह में शामिल हुए। 

31 अक्टूबर को मोदी सरदार सरोवर बांध के नजदीक देश के पहले गृहमंत्री की विशाल प्रतिमा की नींव रखेंगे। संग्रहालय का निर्माण सरदार वल्लभ भाई पटेल मेमोरियल सोसायटी ने किया है। सोसायटी के अध्यक्ष एवं केन्द्रीय मंत्री दिनशा पटेल ने मोदी से मुलाकात की थी और उन्हें समारोह में आंत्रित किया था। समारोह के आमंत्रण पत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री मुख्य अतिथि होंगे और गुजरात के मुख्यमंत्री विशिष्ट अतिथि होंगे। बीजेपी, और खासकर मोदी कांग्रेस पर अक्सर पटेल की विरासत की उपेक्षा करने और नेहरू गांधी वंश परंपरा को बढ़ावा देने का आरोप लगाते रहे हैं।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top