दिवाली या दिवाला : डीजल पर 5 और रसोई गैस पर बढेंगे 250 रू.!
डीजल पर 5 और रसोई गैस पर बढेंगे 250 रू.!
नई दिल्ली।
डीजल, रसोई गैस और सार्वजनिक वितरण प्रणाली के जरिए बेचे जाने वाले मिट्टी तेल की कीमत पर सलाह देने के लिए गठित विशेषज्ञ समिति ने इनकी कीमतों में तुरंत भारी बढ़ोतरी करने की सिफारिश की है। समिति ने डीजल पांच रूपए और मिट्टी तेल चार रूपए प्रति लीटर तुरंत बढ़ाने की जरूरत बताई है। 
रसोई गैस सिलेंडर में समिति ने 250 रूपए बढ़ाने की अनुशंसा की है। योजना आयोग के पूर्व सदस्य किरीट एस पारेख की अध्यक्षता में गठित इस समिति की रिपोर्ट बुधवार पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री एम वीरप्पा मोइली को सौंपी गई। 
रिपोर्ट में डीजल की कीमतों में तुरंत प्रभाव से पांच रूपए प्रति लीटर बढ़ोतरी की सिफारिश करते हुए समिति ने कहा है कि इस पर अंडर रिकवरी छह रूपए के भीतर रखी जानी चाहिए। अंडर रिकवरी की इस सीमा से अधिक होने पर दाम बढ़ाने की छूट दी जाए। 
समिति ने रियायती दरों पर रसोई गैस के मौजूदा नौ सिलेंडरों को घटाकर छह सिलेंडर सालाना किए जाने और इसकी कीमतों में 250 रूपए प्रति सिलेंडर बढ़ोतरी की सिफारिश की है। समिति ने कहा है कि रसोई गैस के सिलेंडर पर शेष सबसिडी को चरण बद्ध तरीके से धीरे धीरे दाम बढ़ाकर अगले दो वर्ष में खत्म किया जाना चाहिए। 
मिट्टी तेल के दाम चार रूपए प्रति लीटर तुरंत बढ़ाने की सिफारिश करते हुए समिति ने कहा है कि इसके बाद दामों को कम से कम प्रति व्यक्ति कृषि सकल घरेलू उत्पाद की तर्ज पर समय समय पर संशोधित किया जाना चाहिए। समिति के अन्य सदस्यों में तेल एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय में संयुक्त सचिव पी के सिंह, वित्त मंत्रालय में संयुक्त सचिव सौरभ गर्ग, आईआईएम अहमदाबाद के पूर्व निदेशक एस के बरूआ और तेल एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय (रिफाइनरी) विभाग में संयुक्त सचिव आर के सिंह थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top