सम के रेतीले धोरों पर उमडा सैलानियों का ज्वार

माघ पूर्णिमा के चाँद तले बही लोक संसकृति की सरिताएं

जैसलमेर, 26 फरवरी/ जैसलमेर में जग विख्यात तीन दिवसीय मरू महोत्सव का समापन सोमवार रात सम के लहरदार रेतीले धोरों पर माघ पूर्णिमा की चॉंद तले भव्य लोक सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं आतिशबाजी के साथ हो गया।समापन समारोह में जिला कलक्टर शुचि त्यागी, सीमा सुरक्षा बल जैसलमेर साउथ के उपमहानिरीक्षक वी.एस राजपुरोहित, जिला पुलिस अधीक्षक पंकज चौधरी, स्टेट ऑफ बीकानेर एण्ड जयपुर के महानिदेशक अजय नकीब के साथ ही जिले के प्रशासनिक अधिकारी एवं हजारों की संख्या में देशी-विदेशी सैलानियों की साक्षी में सांस्कृतिक संध्या में चार चाँद लग गए।
सांस्कृतिक संध्या में ख्यातनाम लोक कलाकारों द्वारा राजस्थानी संस्कृति से ओत प्रोत प्रस्तुत किये गये भव्य एवं आकर्षक लोक गीतों एवं लोक नृत्यों ने दर्शकों मोहित कर दिया। सम के लहरदार रेतीले धोरे हजारों दर्शकाें के जमघट से रंग बिरंगे दिखते रहे। सांस्कृतिक संध्या में जैसलमेर के बरना के अन्तर्राष्ट्रीय ख्यातनाम कलाकार गाजी खां बरना एवं उनकी टीम ने‘‘दमादम मस्त कलन्दर अली का पहला नम्बर......‘‘ एवं ‘‘नींबूड़ा‘‘ गीत प्रस्तुत कर दर्शकों की वाहवाही लूटी वहीं इन कलाकारों ने लोकवाद्य यंत्रों की जुगलबन्दी को प्रस्तुत कर सभी को अपनी ओर आकर्षित कर दिया।
नागौर जिले के मालापुरा के जसनाथी भक्त रघुनाथ एवं उनके दल ने जसनाथी भजन को प्रस्तुत करते हुए तीन क्विंटल आग के अंगीरों पर अग्नि नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकाें को एकदम अचम्भित कर दिया एवं दर्शकों का हुजूम उनके आग के गोले तक दौड़ पड़ा। इस अग्नि नृत्य को देखकर रौंगटे खड़े हो गये। सांस्कृतिक संध्या में मूलसागर (जैसलमेर) के अन्तर्राष्ट्रीय कलाकार तगाराम भील ने अलगुजा वाद्य यंत्र पर राजस्थानी लोक गीतों की धुनें बिखेर कर पूरे माहौल को संगीत से सरोबार कर दिया।
सांस्कृतिक कार्यक्रम में जोधपुर के प्रसिद्ध कालबेलिया कालूनाथ एण्ड पार्टी के संगीत निर्देशन में कालबेलिया नृत्यागंनाओं द्वारा बीन की धुन, डफली की ताल एवं ढोलक की थाप पर नागिन की तरह बलखाती हुई शानदार नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों की वाह वाही लूटी।
इस अवसर पर बाड़मेर के अन्तर्राष्ट्रीय कलाकार स्वरूप पंवार एण्ड पार्टी ने विरह का गीत कुरजाँ पेश किया वहीं बीकानेर के मनमोहन जोशी ने बांसुरी वादन से पूरे माहौल को कान्हा के रंग में रंग दिया। इस सांस्कृतिक संध्या की शुरूआत पादरली के गंगा एण्ड पार्टी द्वारा बाबे की स्तुति से किया जिसमें दैनिक दिनचर्या में आने वाले 13 कार्यो का जीवन्त प्रदर्शन दर्शाया गया।
बूंदी की उषा शर्मा ने मूमल महेन्द्रा की प्रेम गाथा से ओत-प्रोत ‘‘काली काली काजलिये री कोर‘‘ राजस्थानी लोकगीत की प्रस्तुति की वहीं बीकानेर के ख्यातनाम टीवी कलाकार नवरत्न किराडु ने सूफी कलाम ‘‘छाप तिलक चीनी मुझसे नैना मिलाईके....‘‘ की प्रस्तुति से दर्शक आनन्दित हो उठे।
बीकानेर के ही शशि कुमार ने शादी समारोह में प्रस्तुत किये जाने वाले कार्यक्रम कच्ची घोड़ी का नृत्य काफी उत्साहवर्धन करता रहा। इस सांझ में बीकानेर के ठाकुरदास ने विभिन्न पक्षियों एवं पशुओं की बोलियों को हूबहू प्रस्तुत कर दर्शकों की वाहवाही लूटी एवं दर्शक इन आवाजों को सुनकर अपनी हँसी को रोक न पाए।
सम के लहरदार रेतीले धोरों पर सांस्कृतिक संध्या के समापन पर शानदार रंग-बिरंगी आतिशबाजी की गई जिससे पूरा आसमान रंगीन रोशनी से झिलमिला उठा।
कार्यक्रम का संचालन जफर खां सिंधी ने किया वहीं अंग्रेजी में कमेन्ट्री किशोर सिंह राजपुरोहित ने की। इस अवसर पर धोरा दौड़ (पुरुष एवं महिला वर्ग) के विजेताओं को जिला कलक्टर एवं अन्य अतिथियों ने पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया। कार्यक्रम के अन्त में उपनिदेशक पर्यटन विभाग हनुमानमल आर्य ने मरु महोत्सव में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग देने वालों के प्रति आभार जताया। पूरे सांस्कृतिक कार्यक्रम को हजारों दर्शकाें ने उत्साह से देखा एवं कार्यक्रमाें को अपने केमरों में कैद किया।

मुख्यमंत्री ग्रामीण बीपीएल आवास एवं इन्दिरा आवास की तीसरी किश्त जारी करें- जिला कलक्टर त्यागी
जैसलमेर, 26 फरवरी/ जिला कलक्टर शुचि त्यागी ने तीनों विकास अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि मुख्यमंत्री ग्रामीण बीपीएल आवास एवं इन्दिरा आवास व इन्दिरा आवास नियमित में वर्ष2011-12 में स्वीकृत आवासों की तीसरी किश्त एक सप्ताह में संबंधित पात्र परिवारों के खातों मे हस्तान्तरित कर दें वहीं वर्ष 2012-13 के इन आवासों के पात्र परिवारों के खातों में द्वितीय किश्त कि राशि जारी की जानी चाहिए।
जिला कलक्टर शुचि त्यागी ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित मुख्यमंत्री बीपीएल आवास एवं इन्दिरा आवास की प्रगति समीक्षा बैठक में यह निर्देश दिए। बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद् बलदेव सिंह उज्ज्वल के साथ ही संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
जिला कलक्टर त्यागी ने तीनों विकास अधिकारियो को निर्देश दिए कि वे ग्राम सेवकों के माध्यम से प्रत्येक ग्राम पंचायतवार बीपीएल का सर्वे करवाकर उसकी सूची पेश करें वहीं यह भी जानकारी प्राप्त करे की कितने बीपीएल परिवारों को आवासीय पट्टे मिल गए एवं कितने परिवारों को पट्टे नही मिले हैं उसकी भी सूचना पेश करें। उन्होंने विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे वर्ष2013-14 के लिए भी मुख्यमंत्री बीपीएल आवास के आवेदन पत्र तैयार करने की कार्यवाही करें

जिला कलक्टर ने सांसद क्षेत्रीय विकास एवं विधायक स्थानीय विकास कोष के स्वीकृत कार्यो की चर्चा करते हुए तीनों विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास निधि में स्वीकृत कार्यो की तकनीकी स्वीकृति जारी करें वहीं इन सभी कार्यो को तीव्र गति से पूरे कराएं। उन्होंने विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास निधि में वर्ष 2011-12 एवं 2012-13 में स्वीकृत कार्यो की तकनीकी स्वीकृति जारी नहीं करने को गंभीरता से लिया एवं निर्देश दिये की इन सभी कार्यो की शीघ्र ही तकनीकी स्वीकृति जारी करें।
मुख्य कार्यकारी अधिकारी बलदेव सिंह उज्ज्वल ने विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि विधायक मद में जो कार्य पूर्ण हो गए हैं उनका पूर्णता प्रमाण पत्र शीघ्र पेश करें तथा जो कार्य चल रहे है उन्हें भी शीघ्र पूरा कराया जाए। उन्होंने सांसद स्थानीय योजना के संबंध में जारी की गई नई गाईड लाईन का अध्ययन कर उसी अनुरूप कार्य सम्पादित कराने के निर्देश दिए।
बैठक में अधिशाषी अभियन्ता फकीर चन्द, भागीरथ विश्नोई, विकास अधिकारी जैसलमेर समिति रमेशचन्द्र माथुर, सम समिति रामनिवास बाबल, सांकडा समिति छोगाराम विश्नोई भी उपस्थित थे। 

जैसलमेर जिले के सभी विद्यालयों मे समय पर हो पोषाहार की उपलब्धता
जैसलमेर, 26 फरवरी/ जिला परिषद् के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बलदेव सिंह उज्ज्वल ने तीनों ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी विद्यालयों में मिड-डे-मीड कार्यक्रम के तहत समय पर पोषाहार की उपलब्धता सुनिश्चित रखें। उन्होंने ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे पोषाहार के संबंध में तीन माह का मांग पत्र आवश्यक रूप से जिला रसद अधिकारी को प्रस्तुत कर दें ताकि प्रत्येक विद्यालय में पर्याप्त मात्रा में समय पर पोषाहार का परिवहन हो सके।


मुख्य कार्यकारी अधिकारी उज्ज्वल ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित मिड-डे-मील कार्यक्रम की जिला स्तरीय समीक्षा समिति की बैठक में यह निर्देश दिए। बैठक में समिति सदस्य मगाराम सुथार के साथ ही अन्य अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने तीनों ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों ने बताया कि सभी विद्यालयों में पर्याप्त मात्रा में पोषाहार की उपलब्धता है इस संबंध में मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने उन्हें निर्देश दिए कि वे इसके लिए अपनी ओर से विद्यालयों में पोषाहार उपलब्धता का प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर दें।
उन्होंने ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सतत् रूप से विद्यालयों का भ्रमण कर मिड-डे-मील पोषाहार का निरीक्षण करते रहें वहीं विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे भी 15 दिन में एक बार ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों की बैठक लेकर विद्यालयों में पोषाहार उपलब्धता की समीक्षा करें एवं इस कार्यक्रम की प्रभावी मॉनिटरिंग भी करें। बैठक में सर्व सम्मति से विद्यालयों मे गैस कनेक्शन के लिए निर्धारित 4 हजार 73 रुपये की राशि का अनुमोदन किया गया। उन्होंने ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे विद्यालयों के लिए गैस कनेक्शन लेने की कार्यवाही करें।
उन्होंने ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे विद्यालयों में विद्यार्थियों को फल आवश्यक रूप से दें तथा विद्यालय प्रबन्धन समिति को पाबंद करें कि गुणवत्तायुक्त मिर्च मसाला एवं तेल का उपयोग करें। उन्होंने खाद्यान्न परिवहन संस्थाओं को निर्देश दिए कि वे प्रतिमाह परिवहन का बिल पेश करें ताकि उसकी सही जांच परख कर समय पर भुगतान किया जा सके। बैठक में विकास अधिकारी जैसलमेर समिति रमेशचन्द्र माथुर, सम समिति रामनिवास बाबल, सांकड़ा समिति छोगाराम विश्नोई, जिला रसद अधिकारी महावीर प्रसाद व्यास, महाप्रबन्धक उपभोक्ता हॉलसेल भण्डार अरुण बारठ के साथ ही तीनों ब्लॉक शिक्षा अधिकारी उपस्थित थे। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top