16 दिसम्बर का दिन भारतीय इतिहास का गौरवशाली दिन
बाड़मेर 
गौरव सैनिक सेवा परिषद बाड़मेर अध्यक्ष केप्टन हीरसिंह भाटी एवं केप्टन खेमाराम चौधरी ने विज्ञप्ति जारी कर बताया कि गौरव सैनिक सेवा परिषद बाड़मेर एवं नगरपरिशद बाड़मेर के सयुक्त तत्वावधान में हर वर्ष की भांति विजय दिवस के अवसर पर 16 दिसम्बर 2012 को प्रातः 11 बजे स्थानीय शहीद चौराहे पर विजय दिवस समारोह आयोजित किया जायेगा। 16 दिसम्बर का दिन भारतीय इतिहास का गौरवशाली दिन है इस दिन पाकिस्तानी सेना के लेफिनेन्ट जनरल नियाजी ने अपने लगभग एक लाख सैनिको के साथ भारतीय सेना के कमाण्ड़र जनरल अरोड़ा के समक्ष आत्मसमर्पण किया था। इस युद्व के दौरान लेफिनेन्ट जनरल सगतसिंह व जनरल मानेक्शा ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इस युद्व के दौरान भारतीय सेना के चार हजार रणबांकुरो ने अपनी शहादत दी थी। भारतीय सेना की गौरवपूर्ण विजय व रणबांकुरो की शहादत को श्रृंद्वाजली देकर अक्षुण बनाये रखने के लिये यह दिवस विजय दिवस के रुप में मनाया जाता है। जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले समारोह में आर्मी, एयरफोर्स, बीएसएफ व राजस्थान पुलिस के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहेंगे एवं जवानो द्वारा गार्ड ऑफ आनर दिया जायेगा। शहीद परिवारो को इस मौके पर सम्मानित किया जायेगा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top