अस्पताल परिसर में ही जला दिया बायोवेस्ट 
(लाखाराम जाखड़) 
बाड़मेर.
 राजकीय चिकित्सालय में मरीजों े जहां स्वास्थ्य सुधारने की बात की जा रही है, वहीं दूसरी तरफ पीएमओ आरे माहेश्वरी े कक्ष े ठीक बैक साइड में बायोवेस्ट को जलाया जा रहा है। धुएं े गुब्बार और दुर्गंध से शिशु व प्रसुता वार्ड े सैकड़ों मरीजों की स्वाच्छ े साथ जहरीली गैस घुल रही है। जहां एक तरफ मरीजों को निशुल्क दवा योजना की सौगात दी गई है, वहीं दूसरी तरफ बाड़मेर चिकित्सालय में मरीजों को निशुल्क बीमारियों भी मिल रही है। ऐसे में जहां पीएमओ आरे माहेश्वरी बैठतें है ठीक उसे पिछवाड़े में बायोवेस्ट जलाया जा रहा है। बायोवेस्ट से निकल रही गैस और धुएं से वार्ड में भर्ती मरीजों े हाल बेहाल हो रहे है। लेकिन अस्पताल प्रशासन इसको लेकर गंभीर नहीं है। 
एक तरफ सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर प्रदूषण मुक्त शहर बनाना का संदेश दे रही है, लेकिन बाड़मेर े सबसे बड़े चिकित्सालय में सरकारी आदेशों की धज्जियां उड़ाकर बायोवेस्ट को खुलओम जलाया जा रहा है। जिससे अस्पताल में भर्ती मरीजों े स्वाच्छ े साथ जहरीला धुआं घुल रहा है। शिशु वार्ड में भर्ती नन्हे बच्चे पहले से स्वाच्छ की तकतीफ सहित अन्य बीमारियों से ग्रसित है, वहीं दूसरी तरफ शिशु वार्ड की पिछवाड़े में इस तरह े धुएं े बवंडर ने मरीजों का जिना मुश्किल कर रखा है। मरीजों का कहना है कि अस्पताल प्रशासन कोई ध्यान नहीं दे रहा है, जिसे कारण मरीजों की स्वाच्छ े साथ जहरीली रसायनीक गैस घुल रही है। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top