शहीदे आज़म भगत सिंह को किया याद दी श्रधांजलि 
बाड़मेर 
राजस्थानी मोटियार परिषद् के तत्वाधान में स्थानीय डाक बंगलो में शहीदे आज़म भगत सिंह की जयंती समारोह का आयोजन राजस्थानी भाषा समिति के संस्थापक लक्ष्मण दान कविया के मुख्या आतिथ्य ,रणवीर सिंह भादू की अध्यक्षता में आयोजित किया गया ,जयंती समारोह में मुख्या अतिथि द्वारा शहीदे आज़म भगत सिंह के चित्र पर पुष्पहार कर शर्धांजलि दी गई ,इस अवसर पर लक्ष्मण दान कविया ने कहा की अशहिदे आज़म की जयंती पर युवाओं द्वारा उन्हें याद करना सुखद आभास हें उन्होंने कहा की देश की आज़ादी में इन क्रांतिवीरो के कारण ही भारत को आज़ादी मिली उन्होंने कहा किसी भी अभियान को युवाओं के सहयोग के बिना सफलता नहीं मिलाती .इस अवसर पर शेर सिंह भुरटिया ने कहा की भगत सिंह भारत के एक प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी थे। भगतसिंह ने देश की आज़ादी के लिए जिस साहस के साथ शक्तिशाली ब्रिटिश सरकार का मुक़ाबला किया, वह आज के युवकों के लिए एक बहुत बड़ा आदर्श है। इन्होंने केन्द्रीय संसद (सेण्ट्रल असेम्बली) में बम फेंककर भी भागने से मना कर दिया। जिसके फलस्वरूप इन्हें २३ मार्च, १९३१ को इनके दो अन्य साथियों, राजगुरु तथा सुखदेव के साथ फाँसी पर लटका दिया गया। इस अवसर पर चन्दन सिंह भाटी , नरेश देव सारण ,रिड़मल सिंह दांता रणवीर सिंह भादू ,दुर्जन सिंह गुडीसर रघुवीर सिंह तामलोर ,विजय सिंह खारा ,आवड सिंह सोढा ,अशोक सारला ,रमेश गौड़ ,दिनेशपाल सिंह लखा सहित कई लोग मोजूद थे ,सभी ने शहीदे आज़म को श्रधांजलि अर्पित की

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top