चातुर्मास के लिए पन्यास पुण्डरिक रत्न विजय महाराज व साध्वी मण्डल स्वर्ण नगरी महातीर्थ पहुचे 
जैसलमेर 
जैन स्वेताम्बर तपागच्छीय समुदाय के पन्यास पुण्डरिक रत्न विजय म0सा0 ने अपने शिष्य मण्डल साध्वी मण्डल के साथ शुक्रवार कों भव्य जुलुस के साथ स्वर्णनगरी जैसलमेर महातीर्थ में चातुमासिक प्रवेश किया । जुलुस में अहमदाबाद, मोरवी, जोधपुर, बाडमेर, धोरिमन्ना व ब्रहमसर सहित प्रदेश के विभिन्न नगरो के अलावा देश के कोनेकोने से आये हजारो श्रावकश्राविकाओ ने चातुमासिक प्रवेश मे हिस्सा लिया। प्रातः 08 बजे गाजेबाजे के साथ जुलुस महावीर सेवा सदन से रवाना होकर महावीर भवन पहुॅचा जगहजगह श्रावको ने चावल की गोहली कर जुलुस का स्वागत किया महाराज श्री महावीर भवन मे दर्शन वन्दन कर जुलुस के साथ जैन भवन स्थित नमिनाथ जिनालय पहुूचे आत्मवल्लभ सभा ग्रह मे र्धम सभा को संबोधित करते हुए महाराज श्री ने कहा कि चातुर्मास के दोरान सम्यक दर्शन व चरित्र की साधना आराधना करें संत महात्माओ के सानिध्य मे रहकर प्रार्थना पुजा अर्चना व दोनो समय प्रतिक्रमण करके अपने व्यवहार से आत्म सुद्वि व शासन की प्रभावना करे उन्होने कहा कि चातुर्मास के दोरान वाणी व बाहय आडम्बर से बचें तथा भक्ति व समाज को जागृत करने मे सहभागी बने। समारोह में जैसलमेर निवासी उम्मेदमल, महावीर कुमार राखेचा परिवार द्वारा कामली ओडाकर बहुमान किया गुजरात के भक्तो द्वारा महाराज श्री का गुरुपुजन कर लाभ लिया गया। स्वागत गीत सुश्री नीलम जैन द्वारा प्रस्तुत किया गया इस अवसर पर सकल जैन संध के अध्यक्ष राजमल जैन , महेन्द्र भाई बाफना ने सकल संध से महाराज श्री के निश्रा मे होने जा रहे चातुर्मास मे त्याग तपस्या साधना कर अपने जीवन को सफल बनाये बाफना ने बताया कि महाराज श्री 14 वर्ष के बाद यह दूसरा चातुर्मास कर रहे हैं 03 जुलाई गुरुपुर्णिमा का भव्य आयोजन होगा जिसमे गुजरात से काफी संख्या मे गुरु भक्तो के पधारने की सम्भावना हैं।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top