'एजेंट विनोद' की बज गई 'पुंगी', होगी फ्लॉप!
सैफ अली खान और करीना कपूर की अब तक की सबसे महत्वाकांक्षी फिल्म 'एजेंट विनोद' रिलीज होने के पहले सप्ताहांत संतोषजनक प्रदर्शन नहीं कर पाई। रविवार को दर्शक जुटाने में मिली असफलता के बाद इस फिल्म के बारे में ट्रेड विश्लेषक निराशा व्यक्त कर रहे हैं कि यह फिल्म दर्शकों को पसंद नहीं आई इसलिए बॉक्स ऑफिस पर इसके फ्लॉप होने की संभावना है। रिलीज होने के पहले यह कहा जा रहा था कि सैफ की 'एजेंट विनोद' सौ करोड़ कमाने वाली फिल्म बनेगी लेकिन इतनी पब्लिसिटी के बावजूद 23 मार्च तक इसे दर्शकों का अच्छा रिस्पॉंस नहीं मिला था और यह जासूसी एक्शन थ्रिलर के रूप में भी किसी किस्म का प्रभाव छोड़ने में असफल रही।
रविवार को यह उम्मीद के मुताबिक दर्शक खींच नहीं पाई और थिएटर खाली रहा। ट्रेड विश्लेषक विकास मोहन का कहना है,' सप्ताहांत इसका कलेक्शन कमजोर रहा। तीन दिन में यह फिल्म पूरे भारत में 18-20 करोड़ कमा सकी। इसके निर्माता को 15-20 करोड़ का नुकसान हुआ। एजेंट विनोद पैसा वसूल फिल्म नहीं है। मात्र 30-40 प्रतिशत कलेक्शन रविवार को हो पाया और थिएटर खाली था। दर्शकों ने इस फिल्म को पसंद नहीं किया।'
फिल्म क्रिटिक तरण आदर्श का कहना है, 'इस फिल्म को दर्शकों का अब तक मिला-जुला रिस्पॉंस मिला है। पहले सप्ताहांत तक यह 30 करोड़ उगाहने मे कामयाब रही। कुछ ने इसे पसंद किया और कुछ ने नापसंद।'
ट्रेड विश्लेषक आमोद मेहरा ने कहा कि इस फिल्म का भविष्य ठीक नहीं है। 'इस फिल्म में दर्शकों के लिए कुछ खास नहीं है। शुक्रवार को इसने मात्र 9 करोड़ का बिजनेस किया और रविवार को तो इस फिल्म ने बिल्कुल निराश किया। दर्शकों ने इस फिल्म को पसंद नहीं किया और उन्हें यह समझ में नहीं आया।'
बाक्स ऑफिस इंडिया के संपादक वजीर शाह इसके बारे में कुछ अलग नज़रिया रखते हैं। उनका विश्वास है कि अगर कुछ अलग तरीके से इस फिल्म का प्रचार किया जाता तो इस फिल्म को सफलता मिल सकती थी। 'सप्ताहांत का कलेक्शन भारत में संतोषजनक नहीं रहा इसलिए अब आगे कुछ कहा नहीं जा सकता। इस फिल्म को थ्रिलर के रूप में नए तरीके की प्रोमोशन की जरूरत थी, जो नहीं हुआ। इस फिल्म की सबसे बड़ी कमी है कि यह बहुत लंबी है और दर्शकों को ढ़ाई घंटे तक सीट से बांधे रखना बहुत कठिन है।'
ट्रेड विश्लेषक कोमल नाहटा का भी कहना है कि फिल्म की लंबाई इसकी सबसे बड़ी कमी है। 'फिल्म का कलेक्शन अच्छा नहीं चल रहा। दस करोड़ की रोज की कमाई को आज के फिल्म बिजनेस के मानदंड पर बेहतर नहीं कहा जा सकता। एजेंट विनोद बहुत लंबी और कंफ्यूजिंग है।'
बॉलीवुड की फिल्म बिज़नेस पर नज़र रखनेवाली वेबसाइट्स भी इसी तरह की बात कर रही हैं। कोइमोई डॉट कॉम के अनुसार एक्शन और मुजरे वाली इस फिल्म ने शुक्रवार को 9.5 करोड़ कलेक्शन किया लेकिन शनिवार को सिर्फ 8.5 करोड़ के कलेक्शन के बाद रविवार को इसने फिर 9.5 करोड़ का बिजनेस किया। कुल मिलाकर यह 27.50 करोड़ रहा।
बॉक्स ऑफिस कैप्सूल के अनुसार एजेंट विनोद के बारे में बड़ी-बड़ी बातें की गई लेकिन दर्शकों ने इसे पसंद नहीं किया। इसने मात्र सप्ताहांत तक 31.75 करोड़ का बिजनेस किया।
मुंबई के सिनेमैक्स इंडिया लिमिटेड के गिरीश वानखेड़े और बिजनेसमेन महेश चवन का भी कहना है कि फिल्म बहुत लंबी और कंफ्यूंजिंग है इसलिए इसका बॉक्स ऑफिस पर कलेक्शन खराब रहा। मुंबई में फन सिनेमा के शिरीष हांडा का कहना है कि उत्तर भारत में तो फिल्म को अच्छा रिस्पॉंस मिला लेकिन मेट्रो में इसने दर्शकों को निराश किया।
फिल्म देखकर निकल रही स्टूडेंट रश्मि पुजारी का कहना था कि वह करीना की फैन है लेकिन यह फिल्म बहुत लंबी थी और इसने बोर किया। एक और दर्शक निखिल बेदी का कहना था कि फिल्म कुछ ज्यादा ही लंबी थी। उन्हें यह फिल्म पसंद नहीं आई और वह बहुत निराश हुए।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top