बाड़मेर पीजी कॉलेज के बाहर छात्रों ने शुरू की भूख हड़ताल
बाड़मेर 
पीजीकॉलेज में छात्रों की मांगे नहीं माने जाने के विरोध में गुरुवार से छात्र भूख हड़ताल पर बैठ गए है। छात्रनेता गजेंद्रसिंह गोरड़िया के नेतृत्व में तीसरे दिन भी धरने पर बैठे छात्र अपनी सात सूत्री मांगों को लेकर डटे रहे। कॉलेज प्रशासन की ओर से इन मांगों में से पांच को ताे मान लिया गया है, लेकिन मुख्य दो मांगे व्याख्याताओं के रिक्त पदों को भरने परीक्षा परिणाम में हुई गड़बडिय़ां को सही नहीं करने के विरोध को लेकर डटे रहे। 
प्राचार्य डॉ. विमला आर्य ने धरने पर छात्रों को बताया कि 2015-16 की अंकतालिका सोमवार से देने, एससी एसटी एसबीसी के छात्रों की छात्रवृत्तियां के लिए सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग में हेल्प डेस्क शुरू करवा दी जाएगी। कॉलेज के बंद शौचालयों को छात्रों के लिए खुलवा दिया गया। वहीं पार्क साइकिल स्टैंड, पुरानी बिजली फिटिंग का काम चालू कराने का आश्वासन दिया, लेकिन व्याख्याताओं के रिक्त पदों की मांग के कॉलेज आयुक्तालय कॉलेज शिक्षा को अवगत कराने की बात कही। इस पर तीन छात्र लोकेंद्रसिंह गोरड़िया, मेहताबसिंह आकोड़ा, महिपालसिंह धारवी दो मांगों को लेेकर भूख हड़ताल पर बैठने का फैसला किया। इस दौरान मदनसिंह रामदेरिया, कुलदीप बारुपाल, मगसिंह सिसोदिया, शैतानसिंह, गणेश विश्नोई, प्रवीण सिंह, तेजमाल सिंह, जोगराजसिंह, रूपेश जैन, ललित गर्ग सहित कई छात्र मौजूद रहे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top