विमुद्रीकरण के निर्णय से आमजन त्रस्त - शब्बीर हुसैन
बाड़मेर 
बीते 8 नवम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एकदम 500 एवं 1000 रूपये के नोटों को विमुद्रित कर दिया। उक्त फैसले लेने से पूर्व बैंकिग के आधारभूत ढांचे की उपलब्धता का संज्ञान लिये बिना अव्यावहारिक निर्णय लिया। अपर्याप्त संस्थागत परिवर्तनों को अंजाम दिए बिना इस निर्णय की क्रियान्विती से देश का आमजन त्रस्त, दुःखी, परेषान एवं लाइन में खड़ा दिखाई दे रहा है यह विचार प्रदेष कांग्रेस के महासचिव एवं बाड़मेर सहप्रभारी शब्बीर हुसैन खान ने जिला काग्रेस कमेटी बाड़मेर द्वारा केन्द्र सरकार द्वारा की गई नोटबंदी की कार्यवाही से हो रही आमजन की परेषानी को ध्यान में रखते हुए आवाज उठाने के लिए जिला मुख्यालय पर आयोजित पैदल मार्च एवं धरना प्रदर्षन के कार्यक्रम में व्यक्त किये। उन्होने कहा सरकार ने जनता की परेषानिया कम करने के बजाय आए दिन नये नियम एवं निर्णय लेकर और अधिक दुःखी कर दिया है। आगमन के सामने रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है। उन्होने कहा कि कांग्रेस ने हमेषा आमजन स्थिति कार्य किया। हमे संगठित होकर आमजन को हो रही परेषानियों के लिए सघर्ष के लिए तैयार रहना होगा। 
यह कहा कांग्रेस के नेताओ ने 
पूर्वमंत्री अमीन खां ने धरने को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नोटबंदी का निर्णय अविवेकपूर्ण एवं तर्कसंगत नही है बिना किसी परिणाम के सोचे किया गया निर्णय है उक्त निर्णय संपूर्ण आबादी को बुरी तरह प्रभावित कर जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है। 
बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने कहा कि नोटबंदी के कारण देष में आर्थिक आपातकाल जैसे हालत पैदा हो गये है। बैको में नोट खत्म हो गये, सरकार आमजन की सुविधा एवं समस्याओं में निदान के लिए कुछ भी नही कर रही है। 
प्रदेष सचिव जगदीश चौधरी ने कहा कि सरकार के इस निर्णय से गरीबों, श्रमिकों, कच्ची बस्तियों के रहने वाले अल्प आय वर्ग के लोगो के साथ अन्याय हुआ है आमजन अपना काम ध्ंाधा छोड़कर लाइनो में खड़ा है लेकिन दुर्भाग्य है कि वहां से भी उसे बिना रूपये के निराषा एवं हताषा के साथ लौटना पड़ रहा है। 
पूर्व जिला प्रमुख श्रीमती मदनकौर ने कहा कि भाजपा की नरेन्द्र मोदी सरकार ने आवष्यक पूर्व तैयारियों एवं संसाधनों को सुदृढ किये बिना अव्यावहारिक एवं अतर्कसंगत पूर्ण निर्णय लेकर देष की जनता के सामने अनगिनित समस्याएं खड़ी कर रही है तथा ग्रामीण आबादी की आधारभूत स्तंभ सहकारी बैको को मुद्रा लेन-देन के निर्णय से वंचित कर संवैधानिक नियमों का उल्लघंन किया जा रहा है सुदूर गांवो में बैकिग की कोई सुविधा नही है। केन्द्र एवं राज्य सरकार आमजनता के सामने उत्पन्न समस्याओं से होने वाली परेषानियों के निदान में नाकाम एवं विफल साबित हुई है। 
जिलाध्यक्ष फतेह खां ने कहा कि भाजपा सरकार के विमुद्रीकरण के निर्णय से देष में आर्थिक ठहराव की स्थिति उत्पन्न हो गई है। इससे हर वर्ग दुःखी है सरकार ने अपरिपक्व व अदूरदर्षी निर्णय लेकर देष को आर्थिक संकट में डाल दिया है। 
यह हुए शामिल 
आज के धरने को पूर्व विधायक गोपाराम मेगवाल, पूर्व श्रम सलाहरकार बोर्ड अध्यक्ष गफूर अहमद, महंत निर्मलदास, उपप्रमुख सोहनलाल चैधरी, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष श्रीमती मृदुरेखा चैधरी ने भी संबोधित किया। 
आज धरने प्रदर्षन रैली में जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेघवाल नगरपरिषद् सभापति लूणकरण बोथरा, जिलाध्यक्ष यज्ञदत जोषी, मूलाराम मेघवाल, ओमाराम मेघवाल, महामंत्री चैनसिह भाटी, सोनाराम टांक, प्रधान गरिमा राजपुरोहित, पुष्पा चैधरी, भगवती मेगवाल, रषीदा बानो, महरो समेजा, ताजाराम चैधरी, तेजाराम मेघवाल, ओमप्रकाष भील व बालोतरा नगरपरिषद् उपसभापति राधेष्याम माली, ब्लाॅक युथ कांग्रेस लोकसभाध्यक्ष ठाकराराम माली, ब्लाॅकध्यक्ष नजीर मौहम्मद, मोटाराम मेघवाल, प्रेमसिह पादरू, बच्चू खां, दिनेष कुलदीप, भंवरलाल भाटी, रहीम खां, खुमाराम चैधरी बीसीसीबी के पूर्व अध्यक्ष डूंगराराम काकड़, किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष रूपाराम सारण, एसटी विभाग जिलाध्यक्ष हनुमान भील, एससी विभाग श्रवण कुमार चंदेल, पीसीसी सदस्य रोषन अली, विचार विभाग अध्यक्ष डाॅ. मेघाराम गढवीर, नगरध्यक्ष दमाराम परमार, पार्षद नरेषदेव सहारण, किषोर शर्मा, बलवीर माली, पूर्व सरपंच रोषन खां, भंवरलाल शर्मा षिक्षक प्रकोष्ठ, दीपक परमार, भूराराम गोदारा, पूर्वप्रधान सिमरथाराम बेनिवाल, सुरताराम मेघवाल, महेन्द्र टाईगर, बगताराम चैधरी ओम भाटिया, कार्यालय सचिव ओमप्रकाष चैधरी, मूलाराम जांणी, प्रहलाद धतरवाल, बंजरग पालीवाल, आसुराम मेगवाल, रउफ राजा, गुलाम मौहम्मद, हुसैन खां, भानुप्रतापसिह, कुटलाराम उपप्रधान बाड़मेर सहित बड़ी सख्या में पदाधिकारी जनप्रतिनिधिगण कार्यकर्तागण उपस्थित हुए। 
धरना, रैली, प्रदर्शन और ज्ञापन 
धरने के बाद कांग्रेस नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने पदैल मार्च करते हुए कलेक्टेªट, स्टेषन रोड़, अहिंसा चैराहा, अस्तपाल रोड़ होते हुए कलेक्टेªट पहुंचकर जिला कलक्टर बाड़मेर ज्ञापन प्रेषित कर केन्द्र की भाजपा सरकार द्वारा 8 नवम्बर 2016 को लिये गये विमुद्रीकरण के निर्णय से देष की जनता के लिए उपजी दुविधाओं के निदान के संबंध में मांग की गई।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top